Weight loss vegetable- ठंड के मौसम में इस सब्जी को खाने से वजन घटता है, जिम नहीं जाना पड़ता

आयुर्वेद के अनुसार भारत में अनाज, सब्जी और मसालों का उत्पादन स्वास्थ्य के संतुलन की दृष्टि से निर्धारित किया गया। यही कारण के भारत के हर क्षेत्र में मौसम के अनुसार सब्जी एवं फल आते हैं। डॉक्टर भी कहते हैं कि मौसमी सब्जियां एवं फल स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं। 

पाचन तंत्र ठीक करने एवं मोटापा घटाने वाली सब्जी

भारत की प्राचीन मान्यता है कि सर्दियों के मौसम में यदि सरसों का साग खाया जाता है तो वह स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि ठंड के मौसम में सरसों का साग खाने से मोटापा घटता है। शरीर में चर्बी कम होती है। आयुर्वेद के डॉक्टर अनिल दुबे कहते हैं कि सरसों के साथ में काफी मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो मनुष्य के शरीर की मेटाबॉलिक क्रियाओं को कंट्रोल करता है। इसके कारण मनुष्य का पाचन तंत्र ठीक प्रकार से काम करता है। सरसों के साथ में बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है इसलिए वजन कम करने में मदद करता है। 

सरसों के साग के हेल्थ बेनिफिट क्या है

  • पाचन तंत्र को ठीक करता है। शरीर की चर्बी को कम करता है। 
  • फोलेट की उपलब्धता के कारण शरीर का कोलेस्ट्रॉल लेवल कम हो जाता है। ठंड में हार्ट अटैक का खतरा नहीं रहता। 
  • सरसों के साग में कैल्शियम और पोटेशियम होता है जो हड्डियों को मजबूत करता है। 
  • सरसों के साग में विटामिन ए होता है जो आंखों की मांसपेशियों के लिए फायदेमंद है। 
  • सरसों के साग में एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो शरीर को कैंसर से बचाने की कोशिश करता है। 
अस्वीकरण:- यह जानकारी प्राचीन भारतीय मान्यताओं एवं आयुर्वेद विशेषज्ञों के बयानों के आधार पर संकलित करके प्रकाशित की गई है। कृपया किसी भी प्रकार का प्रयोग करने से पहले अपने आयुर्वेद चिकित्सा विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य करें।