TIT COLLAGE BHOPAL के सामने से स्टूडेंट का अपहरण, मुख्तार मलिक के लड़के ने किडनैप किया

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के नामचीन बदमाशों में से एक रहे मुख्तार मलिक के बेटे यासीन मलिक का नाम भी अब अपराधियों की सूची में शामिल होने लगा है। टीआईटी कॉलेज भोपाल के सामने से इंजीनियरिंग के एक स्टूडेंट को किडनैप किया गया और ढाई घंटे तक शहर की सड़कों पर पीटते हुए घुमाया। झगड़ा इसी कॉलेज की एक लड़की के लिए हुआ है। 

BHOPAL TODAY- यासीन मलिक और यश करे सिद्धार्थ की ताक में बैठे थे 

टीआइ अजय नायर के मुताबिक सिद्धार्थ भूषण (उम्र 20 वर्ष) रत्नागिरी पिपलानी में रहता है। वह TIT COLLAGE से BTech सेकंड ईयर का छात्र है। गुरुवार को उसके कालेज की छुट्टी थी, लेकिन कॉलेज में अभिनेता अरबाज खान का कार्यक्रम था। अरबाज खान को देखने के लिए सिद्धार्थ कॉलेज पहुंचा। वह दोपहर करीब दो बजे के आसपास कालेज के गेट के बाहर आया तो कालेज में ही पढ़ने वाला यासीन मलिक और उसका साथी यश खरे ने उसे आवाज दी,लेकिन वह नहीं रूका। 

TIT COLLAGE BHOPAL के सामने से स्टूडेंट का अपहरण हो गया

दोनों को अपनी तरफ आता देख सिद्धार्थ ने कोकता सड़क की ओर दौड़ लगा दी। यह देख यासीन और यश ने उसे पकड़ लिया। दोनों के हाथ में डंडे थे और डंडे से उन्होंने मारपीट की। कुछ युवक सिद्धार्थ को बचाने के लिए सामने आए, लेकिन आरोपितों के हाथ में डंडे और उनका गुस्सा देखकर वह हिम्मत नहीं कर सके। इधर, आरोपितों सिद्धार्थ को कार में बिठाकर पुराने शहर की तरफ ले गए। 

BHOPAL शहर में चलती कार में किडनैप छात्र को ढाई घंटे तक पीटा

आरोपित चलती कार में उससे मारपीट और गालीगलौज कर रहे थे। करीब ढाई घंटे तक शहर के अलग-अलग हिस्सों में कार में घुमाकर मारपीट करने के बाद शाम करीब साढ़े चार बजे के करीब उसे रत्नागिरी चौराहा के पास छोड़कर फरार हो गए।

सेकंड ईयर की लड़की ने बताया उसके कारण हुई है लड़ाई

इधर, टीआईटी कालेज सेकंड ईयर छात्रा ने पुलिस को शिकायत करते हुए बताया कि वह यसीन मलिक और यश खरे के साथ हथाईखेडा डेम के पास बैठी थी, तभी शाम करीब साढ़े चार बजे के आसपास सिद्धार्थ भूषण वहां पहुंचा था। वह गुस्से में था और गालियां देने लगा। मैंने उसे गाली देने से मना किया तो वह कहने लगा कि अकेले मिलना जान से खत्म कर दूंगा।