MP NEWS- विधानसभा में स्वयं अध्यक्ष ने मंत्री विश्वास सारंग के दावे की पोल खोली

भोपाल
। ऐसा बहुत कम होता है जब विधानसभा अध्यक्ष किसी प्रश्न उत्तर में हस्तक्षेप करते हुए सरकार के दावे की पोल खोल दे, लेकिन आज मध्यप्रदेश विधानसभा में हुआ। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग के दावे की पोल स्वयं विधानसभा अध्यक्ष ने खोल दी। 

विधायक ने आरोप लगाया- आईसीयू, सीसीयू की हालत खराब है

मामला रीवा मेडिकल कॉलेज का है। रीवा की चुरहट से BJP विधायक शरदेंदु तिवारी ने कहा- रीवा मेडिकल कॉलेज में चार घंटे बिजली नहीं मिली। आईसीयू में भर्ती निर्मला मिश्रा की मौत हो गई। वे वेंटिलेटर पर थीं। मेडिकल कॉलेज के आईसीयू, सीसीयू की हालत खराब है। उस रात चार और मरीजों की मौत हुईं।

मंत्री ने कहा- आरोप निराधार, मेडिकल कॉलेज में सब कुछ चुस्त-दुरुस्त है

मंत्री विश्वास सारंग ने कहा, रीवा मेडिकल कॉलेज में 22 नवंबर को सुबह 5 बजे सिर्फ पांच मिनट के लिए बिजली गई थी। जनरेटर से लाइट तुरंत चालू हो गई थी। निर्मला मिश्रा की मौत 23 नवंबर को सुबह हुई थी। बिजली, वेंटिलेटर सभी के लिए बैकअप की व्यवस्था रहती है। वेंटिलेटर में इन बिल्ट बैकअप रहता है, जो 6 घंटे चलता है। चार डॉक्टरों ने इसकी जांच की। जांच में जो तथ्य आए, उसके अनुसार ये जवाब दिया है।

मध्यप्रदेश विधानसभा में अध्यक्ष ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री की पोल खोल दी

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा, मैंने खुद रीवा मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। वहां आईसीयू में एसी नहीं था। मंत्री जी आपको अधिकारियों ने सही रिपोर्ट नहीं दी। विधायक ने कहा, जांच डॉक्टरों के बजाय तकनीकी विशेषज्ञों से कराएं। इसमें विधायकों को भी शामिल किया जाए।