BHOPAL की जिस लड़की ने मंत्री को बदनाम किया उसे बुलाओ, बदनावर कांड की जांच तो कराओ: कांग्रेस

भोपाल
। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बदनावर रिसॉर्ट कांड की जांच कराने की मांग की है। पूर्व मंत्री एवं विधायक पीसी शर्मा और प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने संयुक्त रूप से पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि भोपाल की जिस लड़की ने सरेआम मंत्री को बदनाम कर दिया है, उसे कम से कम पूछताछ के लिए तो बुलाना ही चाहिए। उसके मोबाइल की जांच कराना चाहिए। 

मप्र की राजनीति में यह दूसरा हनीट्रेप मामला 

उल्लेखनीय है कि बदनावर विधानसभा के विधायक राजवर्धन सिंह दत्तीगांव मध्य प्रदेश शासन के उद्योग नीति और निवेश प्रोत्साहन राज्यमंत्री हैं और इन दिनों मध्यप्रदेश में उद्योग विभाग का सबसे बड़ा इवेंट होने जा रहा है। दुनियाभर के निवेशकों को इंदौर में आमंत्रित किया गया है। ऐसी स्थिति में यह मामला काफी परेशानी भरा हो गया है। कांग्रेस के नेताओं ने पत्रकारों से कहा कि, मप्र की सत्तारूढ़ राजनीति में यह दूसरा हनीट्रेप मामला प्रतीत हो रहा है। आखिरकार क्या कारण है कि चाल-चरित्र और चेहरे की दुहाई देने वाली शिवराज सरकार एक ओर हुक्का बार पर प्रतिबंध लगाने की बात कह रही है वहीं दूसरी और एक मंत्री से जुड़े मामले पर जांच कराने तो तैयार नहीं है।

नेताद्वय ने यह भी कहा कि वायरल वीडियो में जो कुछ भी दिखाई दे रहा है वह किसी से छुपा नहीं है। वहां उस महिला ने जो कुछ कहा गया, कांग्रेस उसे दोहराना नहीं चाहती। शिवराज सिंह के लाडले मंत्री के बारे में उस महिला ने अपशब्द कहे और सच्चाई बखानी वो उन वीडियो से जाहिर हो गई, जो वायरल हुए। 

कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने कहा कि उस महिला की बातें कितनी सच थी, इस बात का प्रमाण यह है कि कल दोपहर उस रिसोर्ट में बदमाशों ने तोड़फोड़ की और रिसोर्ट में ताला लगा दिया। तोड़फोड़ करने वाले बदमाशों की संख्या 20 से ज्यादा थी, इनमें 3 लोगों की पहचान राजवर्धन सिंह के करीबियों के रूप में की गई, जो कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए थे। विजय सिंह पंवार कांग्रेस के पूर्व विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष और धर्मेंद्र सिंह नाथावत पूर्व विधायक प्रतिनिधि हैं। ओम बना भी राजवर्धन का करीबी है। तीनों आरोपी फरार हैं, जिनकी पुलिस को तलाश है।