GWALIOR NEWS- अमित शाह का सामने सिंधिया के शक्ति प्रदर्शन होगा

ग्वालियर
। भारत के गृह मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के दूसरे सबसे बड़े नेता श्री अमित शाह 16 अक्टूबर को ग्वालियर आ रहे हैं। सरकारी दस्तावेजों के अनुसार श्री अमित शाह ग्वालियर में राजमाता विजयाराजे सिंधिया एयर टर्मिनल के विस्तार की आधारशिला रखेंगे लेकिन पॉलिटिकल प्लानिंग के अनुसार अमित शाह के सामने ज्योतिरादित्य सिंधिया अपना शक्ति प्रदर्शन करेंगे। यहां याद दिला देना चाहिए कि ऐसे ही एक शक्ति प्रदर्शन के कारण योगी आदित्यनाथ सांसद से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बन गए थे।

विधानसभा चुनाव 2023 नजदीक आते चले जा रहे हैं और भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के बाद से लेकर अब तक ज्योतिरादित्य सिंधिया पार्टी के एक-एक नेता के घर-घर जाकर अपने महल को मजबूत करने के लिए एक-एक ईट चुन रहे हैं। अब माहौल पॉजिटिव है। पूरे ग्वालियर चंबल में विरोध में खड़े होने वाला कोई बड़ा नाम नहीं है। इसलिए श्री अमित शाह को आमंत्रित किया गया है। मुख्य कार्यक्रम जय विलास पैलेस में शाही भोज सुनिश्चित किया गया है। 

बताया गया है कि श्री अमित शाह कम से कम डेढ़ घंटा महल में रहेंगे। इस दौरान श्री अमित शाह के सामने दो बातों का प्रदर्शन किया जाएगा। नंबर वन- ग्वालियर चंबल का हर बड़ा और प्रभावशाली व्यक्ति शाही भोज में नजर आएगा और दूसरा यह प्रदर्शित किया जाएगा कि लोग कितनी निष्ठा और समर्पण के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया से जुड़े हुए हैं।

मराठा गैलरी- इतिहास की झांकी से भविष्य बनाने की तैयारी

जय विलास पैलेस के म्यूजियम में मराठा गैलरी तैयार की गई है। अब से पहले तक आजादी की लड़ाई के मामले में सिंधिया परिवार के लोग मौन हो जाया करते थे परंतु ज्योतिरादित्य सिंधिया दावा करते हैं कि उनके पूर्वजों ने मुगलों और अंग्रेजों के खिलाफ भारत की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी और बलिदान दिया। मराठा गैलरी का लोकार्पण श्री अमित शाह के हाथों कराया जा रहा है। कहने को तो इस गैलरी में मराठा इतिहास की झांकी दिखाई देगी परंतु राजनीति के पंडितों का कहना है कि यही गैलरी ज्योतिरादित्य सिंधिया का भविष्य बनाएगी।