मध्य प्रदेश मानसून- 16 जिलों में भारी बारिश होगी, बादलों का जमघट- MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए बताया है कि मध्य प्रदेश के 16 जिलों के आसमान पर बादलों का जमावड़ा बढ़ता जा रहा है। कुछ इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। जनजीवन प्रभावित हो सकता है। लगभग पूरे मध्यप्रदेश में वज्रपात का खतरा है। यह स्थिति 9 अक्टूबर तक बनी रहेगी। कृपया सावधान रहें और किसी भी स्थिति में खतरा ना उठाएं।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 16 जिलों के लिए येलो अलर्ट

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार नर्मदापुरम, हरदा, बैतूल, विदिशा, सीहोर, बुरहानपुर, खरगौन, धार, इंदौर, देवास, गुना, बालाघाट, सागर, छतरपुर, टीकमगढ एवं निवाडी जिलों के आसमान पर बादलों का जमघट बढ़ता जा रहा है। यदि यह बादल हवा के साथ आगे नहीं बड़े तो इन इलाकों में भारी बारिश होगी। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है यानी सावधान रहें और मौसम को ध्यान में रखकर ही अपनी गतिविधियों का संचालन करें। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बारिश हुई और कहां गर्मी पड़ी 

पिछले 24 घन्टो के दौरान प्रदेश के भोपाल, नर्मदापुरम एवं सागर संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर उज्जैन संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर जबलपुर, इंदौर संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर रीवा, ग्वालियर एवं चंबल संभागों के जिलों में कहीं कहीं वर्षा दर्ज की गई तथा शहडोल संभाग के जिलों का मौसम मुख्यतः शुष्क रहा। 

वर्षा के प्रमुख आंकडे (सेमी मे):- गौरिहार 9 राजनगर 8 अजयगढ, जैसीनगर, लवकुशनगर, सोहागपुर 7, सागर, सतना, बिरसिंहपुर, विदिशा 6. सतवास, नर्मदापुरम बेगमगंज, बैतूल, अटनेर, गौहरगंज, खिरकिया, अमला, बडामलहरा, पलेरा,
खजुराहों, नागौद 5 सेमी। 

मध्य प्रदेश में कहां कितना तापमान बढ़ा और घटा 

प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 33 °C खरगौन, रतलाम, गुना एवं उज्जैन में दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमानों में सभी संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नही हुआ। वे शहडोल सम्भाग के जिलों में सामान्य से काफी अधिक रीवा, भोपाल, उज्जैन सम्भागों के जिलों में सामान्य से अधिक, ग्वालियर सम्भाग के जिलों में सामान्य से कम तथा शेष सम्भागों के जिलों में सामान्य रहें। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 20°C बैतूल एवं रायसेन में दर्ज किया।