Small Business Ideas- 3 लाख की पूंजी से 30 लाख की कमाई और ढेर सारा थैंक्यू मिलेगा

यदि आप भोपाल समाचार डॉट कॉम के नियमित पाठक हैं तो आप जानते हैं कि स्मॉल स्केल बिजनेस शुरू करने के लिए अपना आईडिया कुछ ऐसा होना चाहिए जो अपन को बाजार में सबसे अलग खड़ा कर दे और लोगों के आकर्षण का केंद्र बन जाए। आज अपन एक ऐसे ही यूनिक बिजनेस आइडिया पर डिस्कस करेंगे। इसमें कुछ भी नया नहीं करना है केवल एक ऐसा फीचर ऐड करेंगे जिसके कारण अपना टर्नओवर कुछ ही समय में बाकी सब से बहुत आगे निकल जाएगा। 

सबसे पहले अपना माइंड सेट बनाना है कि अपन कुछ नया करने वाले हैं। इसके लिए छोटे शहरों में 10x10 फीट की एक दुकान की जरूरत होगी। अब अपने क्षेत्र के किसी डॉक्टर से कांटेक्ट करना है। इसके बाद एक मोबाइल एप्लीकेशन बनानी है, और इस तरह अपना एक क्लीनिक शुरू हो जाएगा जो बाकी सारे क्लीनिक से थोड़ा सा अलग होगा। 100% डिजिटल होगा और ओपीडी की फीस दूसरे डॉक्टरों की तुलना में लगभग 50% रखी जाएगी।

लोग मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से ओपीडी के लिए अपॉइंटमेंट फिक्स करेंगे। जब वह अपने टाइम पर क्लीनिक में आ जाएंगे तब उसी मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से फीस अदा करेंगे। डॉक्टर का पर्चा भी डिजिटल होगा, यानी डॉक्टर हाथ से पर्चे पर कुछ नहीं लिखेंगे बल्कि कंप्यूटर से प्रिंट आउट निकलेगा। इस प्रकार आपके पास मरीज का पूरा रिकॉर्ड आ जाएगा और मरीज के मोबाइल एप्लीकेशन पर भी उसका रिकॉर्ड रहेगा। 

अब शुरू होता है अपना बिजनेस प्लान। ओपीडी के दौरान कई मरीज ऐसे आते हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ती है या फिर उन्हें किसी स्पेशलिस्ट डॉक्टर की जरूरत होती है। इसके लिए आपके क्लीनिक से मरीज को रेफर किया जाएगा। हम सभी जानते हैं कि रेफर करने पर कमीशन मिलता है और बहुत कम लोग जानते हैं कि यह 40% तक होता है। 

सबसे अलग और इनोवेटिव आइडिया यह है कि जब मरीज रेफर किए हुए अस्पताल में भर्ती हो जाएगा। इलाज करवाएगा और बिल पेमेंट करेगा, तब आपको आपका कमीशन प्राप्त हो जाएगा। अपन को यह करना है कि, जो भी कमीशन प्राप्त होगा उसका 50% किसी भी बहाने से मरीज को वापस कैशबैक कर देना है। अपन उसकी विभिन्न प्रकार की लैब में कराई गई जांच का खर्चा वापस कर सकते हैं। या फिर उसकी 1 दिन या 3 दिन की दवाई पर हुआ खर्चा वापस कर सकते हैं और इस प्रकार के कई फीचर बना सकते हैं जिसके माध्यम से उसे कैशबैक दिया जाएगा। 

हम लोगों को बताएंगे कि सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत उनके इलाज में हुए खर्चे का एक छोटा सा हिस्सा उन्हें देकर हम मरीजों की मदद कर रहे हैं। यह बात लोगों के दिल को छू जाएगी। जहां एक और उसके इलाज पर बड़ा पैसा खर्च हो रहा है वहीं दूसरी ओर उसे संतोष होगा कि उसका थोड़ा सा पैसा वापस आया, आपने सही वक्त पर उसकी मदद की। 

इसके कारण आपके क्लीनिक पर मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती चली जाएगी और आप किसी भी दूसरे क्लीनिक की तुलना में ज्यादा तेजी से पैसा कमा रहे होंगे। आपको करोड़ों रुपए का लोन लेकर अस्पताल नहीं खोलना पड़ेगा और कुछ समय बाद आपका टर्नओवर एक अस्पताल से ज्यादा हो जाएगा, क्योंकि आपके क्षेत्र के हर अस्पताल में 20% मरीज आपके यहां से रेफर किए हुए भर्ती होंगे।