INDORE NEWS- मायके वालों ने इतना इंटरफेयर किया कि बेटी-दामाद ने सुसाइड कर लिया

मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के राऊ क्षेत्र में लव मैरिज करने वाले दंपति सचिन और मोहिनी के सुसाइड के मामले में एक नया खुलासा हुआ है। जीजा राजकुमार ने बयान दिया है कि मोहिनी के माता-पिता ने मोहिनी और सचिन की पूरी लाइफ को डिस्टर्ब करके रख दिया था। सचिन को ताना मारा करते थे और दोनों की पूरी जिंदगी को अपने हाथ में कंट्रोल कर रखा था। इनके तानों और तनाव से बचने के लिए सचिन और मोहिनी खजराना से राऊ में शिफ्ट हुए थे, लेकिन शायद यहां भी उन्हें शांति नहीं मिल पाई।

TI नरेन्द्र सिंह रघुवंशी ने बताया कि 5 साल पहले सचिन पटेल और मोहिनी ने लव मैरिज की थी। मोहिनी के माता-पिता इस शादी से सहमत नहीं थे। रिश्तेदार राजकुमार ने अपने बयान में बताया है कि सचिन बेरोजगार था और मोहिनी आंगनवाड़ी में काम करती थी। सचिन की बेरोजगारी से मोहिनी को कोई आपत्ति नहीं थी परंतु मोहिनी के माता पिता ने इसी बात को लेकर सचिन का जीना मुश्किल कर दिया था। वह सचिन को लगातार अपमानित और प्रताड़ित करते थे।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि मोहिनी के माता पिता ने सचिन और मोहिनी की पूरी लाइफ को अपने कंट्रोल में ले लिया था। सारे डिसीजन मोहिनी के माता-पिता लेते थे। बात-बात पर ताने मारा करते थे। इस बात से सचिन और मोहिनी परेशान हो गए थे। राजकुमार ने पुलिस को बताया कि पिछले सप्ताह सचिन उनके पास आया था। कह रहा था कि अब खजराना में नहीं रह सकते इसलिए राऊ क्षेत्र में कमरा दिला दें। 

राजकुमार ने राऊ क्षेत्र में सचिन को कमरा दिलवा दिया था। शनिवार को सचिन और मोहिनी अपने नए घर में शिफ्ट हुए थे, लेकिन 2 दिन भी शांति से नहीं रह पाए। दीवार पर मोहिनी के नाम से हल्दी से सुसाइड नोट लिखा मिला है, लेकिन महीने के हाथ में हल्दी नहीं मिली। हल्दी सचिन के हाथ में थी। राइटिंग मोहिनी की है। शायद सचिन के हाथ में हल्दी रही होगी और मोहिनी किसी माध्यम से दीवार पर सुसाइड नोट लिख रही होगी।