INDORE NEWS- गरबा पंडाल में हंगामा, मंत्री ने बताया था कलेक्टर नहीं माने

इंदौर
। पंढरीनाथ चौराहे के गरबा पंडाल में जमकर हंगामा हुआ। 7 लड़कों को पकड़ा गया है जो गरबा पंडाल में दुर्गा माता की पूजा करने नहीं बल्कि किसी अन्य उद्देश्य से आए थे। इस बारे में संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने पहले ही बयान जारी कर दिया था और भोपाल कलेक्टर ने गाइडलाइन भी जारी कर दी थी परंतु इंदौर में कलेक्टर नहीं माने। कोई गाइडलाइन जारी नहीं की गई। नतीजा इस तरह की घटनाएं सामने आ रही है। 

इंदौर के पंढरीनाथ चौराहे के गरबा पंडाल में पूरे 7 युवकों को पकड़ा गया है। यह सभी लड़कियों के फोटो वीडियो बना रहे थे। वहीं पर बजरंग दल के कार्यकर्ता मौजूद थे। जब उन्हें शक हुआ तो उन्होंने पूछताछ की। मोरल पुलिसिंग के चलते सभी पकड़े गए बाद में उन्हें इंदौर पुलिस के हवाले कर दिया गया। आयोजन समिति की ओर से पकड़े गए लड़कों के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं करवाया गया। पुलिस ने पकड़े गए लोगों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है।

उल्लेखनीय है कि राजधानी भोपाल में कलेक्टर ने गाइडलाइन जारी की है। सभी गरबा आयोजन समितियों को इस बात के लिए पाबंद किया गया है कि बिना आईडी कार्ड जमा कराएं किसी को गरबा पंडाल में प्रवेश न दिया जाए। यदि किसी भी प्रकार का विवाद होता है तो इसके लिए गरबा आयोजन समिति जिम्मेदार होगी। 

उल्लेख करना अनिवार्य है कि इंदौर शहर की प्रभावशाली विधायक एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने बयान जारी करके कहा था कि गरबा डांडिया के आयोजन में कुछ उपद्रवी लड़के घुस आते हैं और लड़कियों को परेशान करते हैं।