मध्य प्रदेश मानसून- 10 जिलों में मूसलाधार, 17 में भारी बारिश होगी- MP WEATHER FORECAST

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मध्य प्रदेश के 10 जिलों में मूसलाधार बारिश और 17 जिलों में भारी बारिश होने की संभावना बताई है। यह पूरे जिले में नहीं होगी लेकिन यदि किसी एक स्थान पर हुई तो दूसरा स्थान प्रभावित होगा। नदियों में बाढ़ की स्थिति बन सकती है। यह खतरा 16 सितंबर तक बना रहेगा।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 10 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार रायसेन, नर्मदापुरम, बैतूल, विदिशा, छिंदवाड़ा, सागर, टीकमगढ़, दमोह, छतरपुर एवं निवाड़ी जिलों में मूसलाधार बारिश होने की संभावना है। वैज्ञानिकों का कहना है कि उपरोक्त जिलों के कुछ इलाकों में 115.6mm 204.4mm तक बारिश हो सकती है। इसके कारण आम जनजीवन प्रभावित होगा। नदी नालों में बाढ़ की स्थिति बन सकती है। मौसम विभाग ने नागरिकों, यात्रियों एवं किसानों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। यानी उपरोक्त इलाकों में मौसम से प्रभावित होने वाली सभी गतिविधियों को तत्काल स्थगित कर दें। 

मध्य प्रदेश में वर्षा का पूर्वानुमान- 17 जिलों के लिए येलो अलर्ट

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार धार, गुना, खंडवा, शिवपुरी, खरगौन, सीहोर, अशोक नगर, अलीराजपुर, झाबुआ, पन्ना, नीमच, मंडला, शाजापुर, बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी एवं मंदसौर जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। वैज्ञानिकों का कहना है कि 64.5 से 115.5mm तक बारिश हो सकती है। बारिश होने की स्थिति में जनजीवन प्रभावित होने की संभावना है। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है यानी सावधान रहें और मौसम को ध्यान में रखकर अपनी योजना बनाएं। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बरसात हुई

पिछले 24 घन्टों के दौरान प्रदेश के रीवा, नर्मदापुरम, जबलपुर इंदौर एवं शहडोल संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर, सागर, भोपाल एवं ग्वालियर संभागों के जिलों में अनेक स्थानों पर, उज्जैन संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई एवं चंबल संभागों के जिलों में मौसम मुख्यतः शुष्क रहा। 

वर्षा के प्रमुख आंकड़े (सेमी मे):- मोहखेड़ा 18, भैंसदेही 12, परसवाड़ा 11, खंडवा, करेली, मोहगांव, बरगी 10, सौसर, बिरसा, मलाजखण्ड 9 नई हरसूद तिरोड़ी बरघाट, बिछुआ, अमरकंटक उमरेठ, किरनापुर, तामिया 8 पंचमढ़ी, खालवा 7 सेमी।