MP NEWS- शिक्षक भर्ती के लिए स्कूल शिक्षा एवं जनजातीय विभाग से संयुक्त काउंसलिंग हो

भोपाल
। शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय एवं आयुक्त जनजातीय विभाग के नाम ज्ञापन पत्र सौंपकर स्थाई शिक्षक भर्ती 2018 के द्वितीय चरण में संयुक्त रूप से काउंसलिंग कराने की मांग की है।

ज्ञात हो कि प्रदेश में स्थाई शिक्षकों की पूर्ति के लिए भर्ती प्रक्रिया पिछले 4 वर्षों से चल रही है। भर्ती के प्रथम चरण में दोनों विभागों द्वारा अलग-अलग काउंसलिंग की गई थी जिस कारण चयन एवं प्रतीक्षा सूची में पात्र अभ्यर्थियों के नामों की पुनरावृत्ति हुई। जिससे अच्छी रैंक एवं नंबर प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों का नुकसान हुआ था। जबकि शिक्षक भर्ती के लिए नियोजन प्रक्रिया की दिशा निर्देशिका में भी स्पष्ट रूप से उल्लेख है कि एक अभ्यर्थी का नाम एक से अधिक नियोक्ता की सूची में सम्मिलित नहीं किया जाएगा।

ज्ञापन पत्र में प्रमुख रूप से शिक्षक भर्ती के लिए द्वितीय काउंसलिंग में पूर्व से चयनित अभ्यर्थियों के नामों की पुनरावृत्ति ना होने की मांग को प्रमुखता से दर्शाया गया है।

रंजीत गौर,अरविंद सिंह,रघुनाथ सोलंकी,मनोज प्रजापति,राजेश,शाहिद खान,उत्तमचन्द सहित अन्य अभ्यर्थियों ने ज्ञापन सौंपने के बाद बतलाया कि विभाग के अधिकारियों ने आश्वासन देते हुए कहा है कि शीघ्र ही शिक्षक भर्ती का द्वितीय चरण शुरू किया जाएगा जिसमें दोनों विभागों द्वारा संयुक्त रुप से काउंसलिंग कराने पर विचार किया जा रहा है बहुत जल्द निर्णय भी लिया जा सकता है।