रक्षाबंधन के बाद कब राखी बांध सकते हैं, पढ़िए शुभ-अशुभ विचार- Jyotish Samachar

इस साल 11 अगस्त को भद्रा होने के कारण कई बहनें राखी नहीं बांध पाई। 11 अगस्त को गुरुवार का दिन था और सरकारी छुट्टी नहीं थी। इसके अलावा और भी कई कारण थे। मौसम के कारण भी कई बहने मायके नहीं पहुंच पाई। माना जाता है कि यदि रक्षाबंधन के दिन राखी नहीं बांध पाए तो जन्माष्टमी तक कभी भी बांध सकते हैं परंतु ऐसा नहीं है। 

रक्षाबंधन के बाद राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

  • राहु काल में राखी नहीं बांधना चाहिए। 
  • चतुर्थी तिथि एवं चतुर्दशी तिथि पर राखी नहीं बांधना चाहिए। 
  • मंगलवार एवं शनिवार को राखी नहीं बनना चाहिए। 
  • जन्माष्टमी के दिन राखी बांधना शुभ एवं मंगलकारी माना जाता है। 

शास्त्रों में मुहूर्त को महत्वपूर्ण बताया गया है

उपरोक्त जानकारी देते हुए पंडित धुर्वाचार्य ने कहा कि शास्त्रों में शुभ एवं अशुभ का विचार अनिवार्य बताया गया है। किसी भी काम को करते समय, किसी विशेष दिन पूजा-पाठ के लिए शुभ मुहूर्त का विचार करना चाहिए। कुछ उपाय भी हैं परंतु ऐसे सभी उपाय विषम परिस्थितियों के लिए होते हैं। कुतर्क करने वालों को संतुष्ट नहीं किया जा सकता, क्योंकि उनके हिसाब से रक्षा सूत्र सिर्फ एक धागा है।