JABALPUR NEWS- कांग्रेस विधायक ने इस्तीफे की चेतावनी दी, कमलनाथ से नाराज

जबलपुर
। कांग्रेस पार्टी के विधायक संजय यादव अपने नेता कमलनाथ से नाराज हो गए हैं। उन्होंने इस्तीफे की चेतावनी दी है। मामला जबलपुर नगर निगम में MIC के गठन का है। संजय यादव इसलिए नाराज हैं क्योंकि कमलनाथ ने इस विषय में उनसे बात तक नहीं की। उनका फोन रिसीव नहीं किया। उल्लेखनीय है कि 2018 से लेकर अब तक कमलनाथ से नाराज होकर 20 से ज्यादा विधायक उनका साथ छोड़ कर जा चुके हैं।

जबलपुर नगर निगम मे मेयर इन कौंसिल के गठन को लेकर कॉंग्रेस मे बवाल मच गया हैं। कॉंग्रेस विधायक संजय यादव ने अपनी ही पार्टी पर उपेक्षा करने के संगीन आरोप लगाए है। एमएलए ने कॉंग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को चेतावनी दी है कि अगर उनकी बातों मे ध्यान नहीं दिया गया है तो फिर वह कुछ सोचने के लिए मजबूर हो जाएंगे। हालांकि विधायक संजय यादव की नाराजगी का जवाब देते हुए महापौर जगत बहादुर अन्नू ने कहा है कि कभी भी उनकी उपेक्षा नहीं की गई है। अगर वह नाराज है तो मैं स्वयं उनसे बात करूंगा।

मंगलवार की शाम जैसे ही नगर निगम MIC का गठन कर सूची जारी की गई और उसमें अपने पार्षद का नाम न देख कॉंग्रेस विधायक संजय यादव नाराज हो गए। उन्होंने इसको लेकर कॉंग्रेस के शीर्ष नेताओं को फोन भी लगाया, पत्र भी लिखा लेकिन कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। इस बात से आक्रोशित विधायक संजय यादव ने पत्रकारों को बुलाकर अपनी बात बताइए ताकि शीर्ष नेताओं तक पहुंच जाए। 

विधायक संजय यादव ने बताया कि हमने सिर्फ अपना एक पार्षद MIC में शामिल करने के लिए कहा था। हमारे प्रस्ताव पर कोई विचार नहीं किया गया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि यदि निर्णय को बदला नहीं गया तो कांग्रेस पार्टी को इसका खामियाजा उठाना पड़ेगा। संजय यादव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी में आप कार्यकर्ताओं का कोई सम्मान नहीं है। केवल रसूखदार की बात सुनी जाती है। 

इधर जबलपुर नगर निगम के महापौर जगत बहादुर अनु ने कहा कि MIC का गठन पार्टी के शीर्ष नेताओं की मंजूरी के बाद ही किया गया है।