GWALIOR के सर्राफा कारोबारी का बेटा फुकेट के स्विमिंग पूल में डूबा

ग्वालियर।
ग्वालियर के सराफा कारोबारी का बेटा नीशू अग्रवाल फुकेट के अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहा है। परिवार के साथ घूमने के लिए गया था, तभी जिस होटल के स्विमिंग पूल में तैरने उतरा और गहरे पानी में डूब गया। स्विमिंग पूल में न तो लाइफ गार्ड था, न ही साइनेज। अभी वह अस्पताल में वेंटिलेटर पर है, लेकिन स्थानीय मदद न मिलने की वजह से परिवार को चिंता सता रही है। अब शहर के व्यापारी मदद के लिए आगे आए हैं। व्यापारियों का कहना है : शहर के नेताओं से बात कर मदद मांगे

दरअसल शहर के सराफा कारोबारी मनोज अग्रवाल का बेटा निशु अग्रवाल कुछ दिन पहले परिवार के साथ ग्वालियर से फुकेट घूमने के लिए गया हुआ था। यहां यह लोग ले मेरिडियन बीच रिजॉर्ट फुकेट में रुके हुए हैं। 13 अगस्त को यह लोग होटल के ही स्विमिंग पूल में नहाने के लिए उतार गए। निशु गहरे पानी में चला गया और डूब गया। जब स्वजनों की नजर पड़ी तब होटल स्टाफ की मदद से उसे बाहर निकाला गया। निशु अभी फुकेट स्थित बैंकाक हॉस्पिटल में जिन्दगी और मौत से लड़ रहा है। वह वेंटिलेटर पर है। 
;;
स्वजनों का आरोप है कि यह हादसा होटल प्रबंधन की लापरवाही की वजह से हुआ है। जिस स्विमिंग पूल में यह हादसा हुआ, उसमें कहीं भी साइनेज नहीं थे, जिससे यह पता लग सके की पूल कहां कितना गहरा है। न ही यहां पर लाइफ गार्ड तैनात था। जब निशु डूब गया, तब भी काफी देर बाद उसे निकाला जा सका। पहले होटल स्टाफ का कहना था कि उसके इलाज का खर्च वही लोग उठाएंगे। लेकिन अब वह लोग सहयोग नहीं कर रहे। इसके चलते निशु के स्वजनों ने ग्वालियर में अपने रिश्तेदार और व्यापारियों से संपर्क किया। जिससे भारत सरकार की ओर से फुकेट में इन लोगों को मदद मिल सके। इसे लेकर शहर के व्यापारिक सगठन और खुद व्यापारियों ने ही वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर मदद मांगने की बात कही है। कुछ लोगों से फोन पर भी चर्चा हुई है।;;