JEE Mains 2022 Extra Attempt की डिमांड तेज

जी मैंस 2022 के लिए Extra Attempt की डिमांड तेज हो गई है। स्टूडेंट्स का कहना है कि JEE Mains 2022 के पेपर के दौरान उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ा जिसके कारण रिजल्ट प्रभावित हुआ है। 

कई स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन एवं इंस्टीट्यूशंस के ग्रुप एक साथ आवाज उठा रहे हैं। सोशल मीडिया पर लामबंदी हो रही है। विद्यार्थियों का कहना है कि परीक्षा के दौरान सरवर फेल हो गया था स्क्रीन पर प्रश्न दिखाई नहीं दे रहे थे। नॉर्थईस्ट में बाढ़ आ जाने के कारण स्टूडेंट्स प्रभावित हुए। उम्मीदवारों को गलत रिस्पांस शीट और आंसर की दी गई। सबसे बड़ी बात यह है कि अग्नीपथ योजना के विरोध के कारण बड़ी संख्या में विद्यार्थी प्रभावित हुए। 

स्टूडेंट्स का कहना है कि सरकार अपनी सुविधा के लिए सभी प्रकार के नियम बदल देती है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के मैनेजमेंट को स्टूडेंट्स की प्रॉब्लम के बारे में सोचना चाहिए। यदि वह स्टूडेंट्स की प्रॉब्लम सॉल्व नहीं करेंगे तो यह विद्यार्थियों के साथ अन्याय होगा। सोशल मीडिया पर हलचल तेज हो गई है। कुछ स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन प्रोटेस्ट प्लान कर रही हैं।