Guru Purnima 2022- गुरु मंत्र प्राप्ति मुहूर्त एवं राशिफल

ग्वालियर
। आषाढ़ मास की पूर्णिमा तिथि 13 जुलाई बुधवार को पड़ेगी। इसको गुरु पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। ज्योतिषाचार्य सुनील चोपड़ा ने पत्रकार जाेगेंद्र सेन को बताया कि आषाढ़ मास की पूर्णिमा को महर्षि वेद व्यास का जन्म हुआ था, इसलिए इसे व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है। महर्षि वेदव्यास ने चारों वेदों की रचना की थी। इस कारण इन्हें प्रथम गुरु का दर्जा दिया जाता है। पंचांग के अनुसार, आषाढ़ पूर्णिमा तिथि का प्रारंभ 13 जुलाई को प्रात: 4 बजे हो रहा है और इसका समापन उसी दिन देर रात 12:06 बजे हो रहा है।

Guru Purnima 2022- गुरु मंत्र प्राप्ति मुहूर्त

गुरु पूर्णिमा पर इंद्र योग प्रात: काल से लेकर दोपहर 12:45 बजे तक है, गुरु पूर्णिमा के दिन इस योग में जो व्यक्ति गुरु मंत्र लेता है, सर्वत्र विजयी होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस बार गुरु पूर्णिमा पर मंगल, बुध, गुरु और शनि के अनुकूल स्थिति में विराजमान होने की वजह से शुभ योग बन रहे हैं, इसमें रूचक योग, भद्र योग, हंस योग और शश नामक राजयोग है। इस शुभ योग में गुरुओं की चरण वंदना करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होगी। जीवन के कष्ट दूर होंगे।

मिथुन राशि- 
सफलता हासिल होगी।
धन संचय में सफल रहेंगे।
नए साल की शुरुआत अच्छी रहेगी।
मेहनत का पूरा फल मिलेगा।
पारिवारिक समस्याओं से मुक्ति मिलेगी।
शुभ समाचार मिल सकते हैं।
यह समय शुभ साबित होगा।
इस दौरान आपको कार्यक्षेत्र में सफलता मिल सकती है।
परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा।
धन- लाभ होने के योग बन रहे हैं।

वृश्चिक राशि- 
आपके बिगड़े काम बनेंगे।
नौकरी की तलाश कर रहे लोगों को शुभ समाचार मिलेगा।
सरकारी नौकरी करने वाले जातकों के लिए समय उत्तम है।
अचानक धन लाभ की प्राप्ति हो सकती है।
शुभ फल की प्राप्ति होगी।
इस दौरान आपको आर्थिक लाभ होने के योग बनेंगे।
वाणी में मधुरता रहेगी।
यह समय आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है।
मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने के लिए रोजाना सुबह- शाम करें ये काम, होगी धन की बरसात

धनु राशि- 
इस दौरान आपकी वाणी में मधुरता रहेगी।
आप हर काम में सफलता हासिल करेंगे।
कार्यस्थल पर आपके काम की प्रशंसा होगी।
इस दौरान निवेश से लाभ हो सकता है।
भवन व वाहन सुख की प्राप्ति हो सकती है।
बुध का गोचर छात्रों के लिए उत्तम साबित होगा।
प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को सफलता हासिल हो सकती है।
वैवाहिक जीवन सुखी रहेगा।
प्रेमी के साथ जीवन व्यतीत करने का अवसर प्राप्त होगा।