Chhatarpur Live- 40 फीट नीचे फंसा है बच्चा, जिंदा है, रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू

भोपाल
। मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में ओरछा रोड थाना क्षेत्र के नारायणपुरा और पठापुर गांव के पास खुले पड़े बोरवेल में किसान अखिलेश यादव का 4 साल का बेटा दीपेंद्र यादव गिर गया। वह 40 फीट की गहराई पर फंसा वह दिखाई दे रहा है। कैमरे की रिकॉर्डिंग में हलचल दिखाई दिए यानी जिंदा है। रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू हो गया है। 18 फीट गहराई तक गड्ढा खोदा जा चुका है। 

कलेक्टर संदीप जीआर ने बताया कि घटना दोपहर करीब 2:30 बजे की है।  मासूम दीपेंद्र 40 फीट की गहराई पर फंसा है। बच्चा बात कर रहा है। बोरवेल में ऑक्सीजन सप्लाई शुरू कर दी गई है। इधर, मौके पर भीड़ जमा हो गई है। पुलिस की टीम भी यहां पहुंची है। बच्चे को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया है, लेकिन बारिश होने से इसमें परेशानी आ रही है।

सूखा बोर है, 1 साल पहले कराया था पानी नहीं निकला

परिजनों के अनुसार उन्होंने एक साल पहले ही बोर करवाया था। पानी नहीं निकलने के कारण बोरवेल को कंटीली झाड़ियां रखकर बंद कर दिया गया था। बारिश के पहले खेत बनाने के लिए हाल ही में झाड़ियों को हटाया गया था।

बच्चे को बचाने 150 लोग रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे

बच्चे को बचाने के लिए रेस्क्यू टीम के करीब 150 लोग लगे हैं। इसमें एसडीआरएफ, पुलिस, नगर पालिका और नगर सेना की टीम शामिल है। इसके अलावा करीब 300 से ज्यादा ग्रामीण भी मदद के लिए मौजूद हैं। बोरवेल में कैमरा डाला गया है। वहीं, तीन जेसीबी से बोरवेल से करीब 7 फीट दूर से खुदाई की जा रही है।

दीपेंद्र की मां ने बताया- इसी साल पर स्कूल जाना शुरू किया है

मां लक्ष्मी यादव ने बताया कि बेटा दादा के साथ खेत पर गया था। उनके दो बेटे हैं। बड़ा नरेश और छोटा दीपेंद्र है। पिछले साल ही नर्सरी में दाखिल करवाया था। एक साल पहले ही खेत पर बोरवेल लगवाया था। पानी नहीं निकलने के कारण बोरवेल को कंटीली झाड़ियां रखकर बंद कर दिया गया था। बारिश के पहले खेत बनाने के लिए हाल ही में झाड़ियों को हटाया गया था। वहां खेलते हुए दीपेंद्र बोरवेल के पास गया और हादसा हो गया।