मध्यप्रदेश आयुष्मान योजना घोटाला- 45 से ज्यादा अस्पतालों में छानबीन- BHOPAL NEWS

भोपाल
। मध्यप्रदेश में बड़े पैमाने पर हुए आयुष्मान योजना घोटाला में अब छानबीन शुरू हो गई है। स्टेट हेल्थ एजेंसी की 25 से ज्यादा टीमों ने पिछले 24 घंटों में भोपाल के 45 से ज्यादा अस्पतालों में छानबीन की है। 

आयुष्मान भारत निरामयम मप्र के सीईओ अनुराग चौधरी के नेतृत्व में कार्रवाई की जा रही है। भारी मात्रा में दस्तावेज जब्त किए गए हैं। बताया जा रहा है कि वैष्णों मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल में आयुष्मान योजना घोटाला के खुलासे के बाद पूरे प्रदेश में छानबीन शुरू कर दी गई है। निरीक्षण दल में शामिल एक अफसर ने बताया कि स्टेट हेल्थ एजेंसी द्वारा बंद लिफाफे देकर टीमों को अलग-अलग हॉस्पिटल का निरीक्षण करने के लिए भेजा गया था।

सभी जानते हैं कि मध्यप्रदेश में आयुष्मान भारत योजना के तहत ब्लॉक लेवल तक घोटाले हुए हैं। ना केवल फर्जी आयुष्मान कार्ड बनाए गए बल्कि आयुष्मान योजना का पैसा हजम करने के लिए स्वस्थ नागरिकों को भी अस्पताल में भर्ती दिखाया गया। कुछ किसान मंडी में फसल बेचने जाते हैं तो किसी धर्मशाला या टीनशेड के नीचे रात नहीं बताते। शानदार अस्पताल में जाते हैं और एक रात के लिए भर्ती हो जाते हैं। 

देखना यह है कि आयुष्मान भारत निरामयम एमपी के सीईओ अनुराग चौधरी क्या सचमुच उस घोटाले के सबूत जुटा पाते हैं, जिसकी जानकारी पूरे मध्य प्रदेश को है।