RDVV NEWS- एलएलबी और एलएलएम वालों के लिए परीक्षा की गाइड लाइन जारी

Rani Durgavati Vishwavidyalaya, Jabalpur द्वारा अधिसूचना जारी करके LLB एवं LLM विधि पाठ्यक्रम में प्रदेश के पश्चात परीक्षा आवेदन पत्र एवं परीक्षा में शामिल होने की पात्रता संबंधी दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। जिन का उल्लंघन करने पर विद्यार्थियों को परीक्षा से वंचित किया जा सकता है।

RDVV LLB विधि पाठ्यक्रम परीक्षा की गाइडलाइन

1 पिछले किसी भी सेमेस्टर परीक्षा में अनुत्तीर्ण / अनुपस्थित / अंतराल होने की दशा में आगे किसी भी सेमेस्टर की परीक्षा में प्रवेश की पात्रता नहीं होगी।
2 पिछले किसी भी दो सेमेस्टर परीक्षाओं में (सम / विषम) दो-दो विषयों के साथ अधिकतम 4 विषयों ATKT घोषित होने पर आगे किसी भी सेमेस्टर (सम / विषम) उत्तीर्ण करने पर ही अगली (नियमित) परीक्षा का परिणाम घोषित किया जायेगा अनुत्तीर्ण होने की दशा में परीक्षा निरस्त की जायेगी।
3. चतुर्थ सेमेस्टर परीक्षा (नियमित) प्रदेश हेतु प्रथम सेमेस्टर परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है (द्वितीय एवं तृतीय सेमेस्टर में ATKT के साथ) 
4. पंचम सेमेस्टर परीक्षा (नियमित) प्रवेश हेतु प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। (तृतीय एवं चतुर्थ सेमेस्टर ATKT के साथ) 
5. पष्टम सेमेस्टर परीक्षा (नियमित) प्रवेश हेतु प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय सेमेस्टर उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। चतुर्थ सेमेस्टर एवं पंचम सेमेस्टर ATKT के साथ) 
6. त्रिवर्षीय विधि पाठ्यक्रम पूर्ण करने की अधिकतम अवधि 5 वर्ष है। 

DAVV LLM विधि पाठ्यक्रम परीक्षा हेतु गाइड लाइन 
1. LLM विधि पाठ्यक्रम पूर्ण करने की अधिकतम अवधि 3 वर्ष है।
2. पिछले किसी भी सेमेस्टर परीक्षा में अनुत्तीर्ण/अनुपस्थित / अंतराल होने की दशा में आगे किसी भी सेमेस्टर की परीक्षा में प्रवेश की पात्रता नहीं होगी।
3 तृतीय सेमेस्टर परीक्षा में शामिल होने की दशा में प्रथम सेमेस्टर उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।
4. चतुर्थ सेमेस्टर परीक्षा में शामिल होने की दशा में प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

महाविद्यालय के प्राचार्य यह सुनिश्चित कर लेवे की परीक्षार्थी ने परीक्षा आवेदन भरते समय एल.एल.बी अध्यादेश 111 एवं एल.एल. एम. 23 'A' का नियमानुसार परिपालन किया है, उसके पश्चात ही परीक्षा आवेदन पत्र अनुमत (Approved) करेंगें। विश्वविद्यालय पोर्टल खुला होने पर भी अपात्र परीक्षार्थी द्वारा भरा गया परीक्षा आवेदन पत्र अहर्ता पूरी न होने पर निरस्त माना जायेगा। उपरोक्त समस्त प्रक्रिया के परिपालन का उत्तरदायित्व महाविद्यालय के प्राचार्य एवं परीक्षार्थी का होगा।
परीक्षा नियंत्रक, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय जबलपुर
उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें.