PEOPLES GROUP BHOPAL- प्रवर्तन निदेशालय का छापा, कॉलेज सहित 5 ठिकानों पर सर्चिंग

भोपाल।
मध्य प्रदेश के सबसे बड़े कारोबारियों में शामिल सुरेश विजयवर्गीय द्वारा स्थापित पीपुल्स ग्रुप के 5 ठिकानों पर ED RAID की खबर आ रही है। बताया गया है कि पीपुल्स कॉलेज और पीपुल्स समाचार सहित कई ऑफिसों में दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। उल्लेख अनिवार्य है कि प्रवर्तन निदेशालय की कार्यवाही तब होती है जब मामला बहुत बड़े लेवल पर आर्थिक अपराध का हो। 

बताया गया है कि Enforcement Directorate Mumbai की टीम 50 गाड़ियों में भरकर आई है। टीम 200 से ज्यादा सदस्य शामिल हैं। सभी ऑफिस को नो एंट्री कर दिया गया है। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। इससे पहले आयकर विभाग ने पीपुल्स ग्रुप के ठिकानों पर कार्रवाई की थी। करोड़ों का हिसाब किताब ऐसा मिला था जिसमें टैक्स चोरी की गई थी। पीपुल्स ग्रुप के कारोबार में सुरेश विजयवर्गीय के अलावा उनकी बेटियां मेघा विजयवर्गीय, रुचि विजयवर्गीय एवं नेहा विजयवर्गीय भी हाथ बटातीं हैं। 

आयकर और प्रवर्तन निदेशालय की कार्यवाही में क्या अंतर होता है

आयकर विभाग की कार्रवाई में ऐसी आय का पता किया जाता है जिसका टैक्स नहीं जमा किया गया है। यानी कि अवैध कारोबार से कमाया गया पैसा जिसका टैक्स नहीं दिया। प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई में बहुत बड़े स्तर के आर्थिक अपराधों का पता किया जाता है। यानी कि कोई ऐसा कारोबार जो ना केवल अवैध है बल्कि अर्थव्यवस्था को प्रभावित कर सकता है।