JABALPUR NEWS- सिहोरा खितौलाघाट में भाई-बहन डूबे, दोनों की मौत

सिहोरा/ जबलपुर।
हिरण नदी के खितौलाघाट में गुरुवार शाम पूजन सामग्री विसर्जन करने पहुंची एक युवती और दो लड़के डूब गए। एक लड़के को तो वहां मौजूद लोगों ने बचा लिया, लेकिन लेकिन लड़की और दूसरे लड़के की पानी में डूबने के कारण मौत हो गई। दोनों के शवों को पुलिस ने तलाश लिया। 

खितौला पुलिस ने बताया कि खितौला के वार्ड क्रमांक 16 बरा मोहल्ला निवासी सुनील कुमार दुबे के यहां गुरुवार को पूजन था। जिसमें शामिल होने उसके रिश्तेदार बरा मोहल्ला में ही रहने वाले श्रवण तिवारी का बेटा कृष्णा तिवारी (16 वर्ष) व प्रदीप दुबे का बेटा अभय दुबे (16 वर्ष) भी पहुंचे थे। पूजन के बाद हवन सामग्री का नदी में विसर्जन किया जाना था। 

बहन का पैर फिसला तो दोनों भाई बचाने नदी में कूद गए

शाम लगभग सात बजे सुनील की बेटी आस्था (18 वर्ष) अभय और कृष्णा के साथ हिरण नदी के खितौलाघाट पहुंची। जहां वह पूजन व हवन सामग्री का विजर्सन करने लगी। तभी आस्था का पैर अचानक फिसला और वह गहरे पानी में चली गई। यह देखते ही कृष्णा और फिर अभय ने उसे बचाने का प्रयास किया, लेकिन वे भी गहरे पानी में चले गए। 

स्थानीय लोगों ने रेस्क्यू किया लेकिन एक बालक को बचा पाए

तीनों को डृूबता देख आसपास मौजूद लोगों ने पानी में छलांग लगाई और अभय को बाहर निकाल लिया, लेकिन तब तक कृष्णा और आस्था पानी में गुम हो गए थे। दोनों को काफी देर तक पानी में तलाशा गया। लगभग आधे घंटे की मशक्कत के बाद दोनों पानी में मिल गए। दोनों को बाहर निकाला गया, लेकिन तब तक दोनों की सांसे थम चुकी थी। सूचना मिलत ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी। 

पूरे बरा मोहल्ले में मातम छा गया 

बरा मोहल्ला में हुई इस घटना से जहां कृष्णा और आस्था के परिवारों पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा, वही घटना से पूरे मोहल्ले में मातम छा गया। कोई भरोसा करने तैयार नहीं था कि चंद पलों पूर्व जिस कृष्णा और आस्था को उन्होने सही सलामत देखा, वे अब इस दुनिया में नहीं रहे।