MP COLLEGE NEWS- नए प्रोफेशनल कोर्स, हर स्टूडेंट के लिए कुछ ना कुछ स्पेशल

MADHYA PRADESH
में 
New Education Policy के चलते मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की प्राइवेट यूनिवर्सिटी और टेक्निकल कॉलेजों में स्टूडेंट्स के ओवरऑल डेवलपमेंट के लिए एडवांस्ड वैल्यू ऐडेड कोर्स शुरू किए हैं। जिसके चलते अब यूनिवर्सिटीज में चुनावी पंडित भी तैयार किए जाएंगे और इन्हें मैथमेटिकल एस्ट्रोलॉजी भी सिखाई जाएगी। 

मध्यप्रदेश में AICTI से अप्रूव्ड प्रोफेशनल कोर्सेस

यह ऐसे कोर्सेज हैं जो स्टूडेंट्स की बेसिक नॉलेज को बढ़ाएंगे और उन्हें मार्केट के अनुरूप तैयार भी करेंगे। इनकी अवधि 6 महीने तक की है। यह कोर्सेस AICTI से अप्रूव्ड कोर्सेस हैं। इनके लिए कुछ यूनिवर्सिटीस ने माइक्रो फोकस के साथ टाईअप किया है। इसके साथ ही इंस्टिट्यूट ऑफ़ एक्सीलेंस इन हायर एजुकेशन आईआईएचई (IIEHE) में चुनाव विश्लेषण (सेफोलोजी) मैथमेटिकल एस्ट्रोलॉजी और हैंडराइटिंग आईडेंटिफिकेशन जैसे नए वोकेशनल वोकेशनल कॉर्सेस शुरू किए जाएंगे। प्रबंधन ने इनका ड्राफ्ट तैयार कर लिया है। 

1 से 3 सप्ताह के सर्टिफिकेट कोर्स 

शहर की यूनिवर्सिटी में आईआईटी चेन्नई की डिजाइन किए गए NPTEL COURSE भी संचालित हो रहे हैं। इनकी मॉनिटरिंग भी वहीं से होती है। इसके अलावा 1 सप्ताह 3 सप्ताह के सर्टिफिकेट कोर्स भी शुरू किए जा रहे हैं। 

IIHE में शुरू होने वाले वोकेशनल कोर्स में चुनाव विश्लेषण और परिणामों का आकलन करना सिखाया जाएगा। इसके अलावा मैथमेटिकल एस्ट्रोलॉजी, सोशल सर्वे एंड रिसर्च, वेदिक मैथमेटिक्स जैसे कोर्स भी शुरू होंगे।

Family Business MBA Course

शहर की एक यूनिवर्सिटी ने मैनेजमेंट के छात्रों के लिए फैमिली बिजनेस कोर्स शुरू किया है। यह कोर्स ऐसे छात्रों के लिए उपयोगी है जिनका फैमिली बिजनेस है। यह 2 वर्षीय एमबीए पाठ्यक्रम है। चूँकि कोरोना के बाद मार्केट ग्रोथ बढ़ी है है। अब ऑनलाइन मार्केट भी एक बड़ी चुनौती है। इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट्स फैमिली बिजनेस को बढ़ा सकेंगे। जिनके बिजनेस नहीं है वे भी कंसलटेंट की भूमिका में सलाह दे सकेंगे।

Data Science Course

डाटा साइंस से संबंधित कोर्स इंजीनियरिंग से जुड़े हैं परंतु अब बीसीए स्टूडेंट भी इसे कर सकेंगे। यह 3 साल का कोर्स है। चूँकि अब डाटा का महत्व बढ़ रहा है। डाटा का एनालिसिस, सिक्योरिटी और संबंधित कंपनी के लिए कैसे उपयोग करें। इसकी बारीकियां इस कोर्स में बताई जाएंगी। ऐसे कोर्सेस की डिमांड अब तेजी से बढ़ रही है। पासआउट होने के बाद छात्रों को इससे रोजगार मिल सकेगा। 

Artificial Intelligence Course

यह भी नॉन इंजीनियरिंग कोर्स में शामिल किया गया है। इसी के साथ एनर्जी से जुड़े कोर्स भी शुरू किए जा रहे हैं। स्टूडेंट्स को नई टेक्नोलॉजी से जोड़ने और उपयोगी बनाने में इन कोर्सेस की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। ग्रेजुएशन के साथ ही स्टूडेंट्स अब एडवांस टेक्नोलॉजी भी पढ़ेंगे। यह value-added कोर्स है। इसकी अवधि कुछ सप्ताह, 3 व 6 महीने तक की है। इसके एडवांस लेवल के हिसाब से  ऐसे कोर्सेस को अलग-अलग हिस्सों में बांटा गया है। उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें.