INDORE NEWS- आपस में भिड़ गए कांग्रेसी, विक्रांत भूरिया ने लेटकर फोटो खिंचवाई

इंदौर।
15 साल सत्ता से बाहर रहने के बाद भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं का व्यवहार वैसा का वैसा। बेरोजगारी और व्यापम घोटाले के माध्यम से सरकार के खिलाफ जनता का समर्थन जुटाने आयोजित युवक कांग्रेस का हल्ला बोल कार्यक्रम फेल हो गया। कांग्रेसी नेता आपस में ही भिड़ गए। प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया ने बिना वजह जमीन पर लेटकर फोटो खिंचवाई। 

INDORE LOCAL NEWS- सरकार से लड़ने आए थे, आपस में ही भिड़ गए

मध्यप्रदेश में तमाम समस्याएं होने के बावजूद कांग्रेस पार्टी जनता का समर्थन हासिल नहीं कर पा रही है। जहां भी कांग्रेस नेताओं की भीड़ होती है, वह आपस में ही लड़ पड़ते हैं। आज के हल्ला बोल कार्यक्रम की हेडलाइंस ही बदल गई। जो होना चाहिए था वह दिखाई नहीं दिया। हल्ला बोल तो हुआ लेकिन एक दूसरे के गुट के खिलाफ। नेताओं में ना तो जनता के प्रति समर्पण नजर आया और ना ही सरकार की नीतियों से नाराजगी। 

MP NEWS TODAY- विक्रांत भूरिया, फोटो खिंचवाने के लिए जमीन पर लेटे

प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को कुछ नहीं करना पड़ा। पुलिस को केवल इस बात की चिंता थी कि कहीं कांग्रेस पार्टी के नेता एक दूसरे के खिलाफ कहीं कुछ ऐसा ना कर दे कि उनकी गतिविधियां आईपीसी के दायरे में आ जाए। कांग्रेस संगठन में शांति स्थापित करने के लिए पुलिस ने जमीन पर लाठियां फटकारीं। प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया सहित कुछ नेताओं ने गिरफ्तारी दी। इससे पहले विक्रांत भूरिया अचानक जमीन पर लेट गए। फोटो खींचने के बाद उठकर चले गए। पुलिस ने उनकी टांगा-टोली नहीं की, क्योंकि इसकी जरूरत ही नहीं पड़ी। इंदौर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया indore news पर क्लिक करें.