मध्य प्रदेश मौसम समाचार- 7 जिलों में बारिश होगी, आधे आसमान पर अरब सागर के बादल- MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। भारत मौसम विज्ञान विभाग के भोपाल केंद्र ने मध्य प्रदेश के 7 जिलों नीमच, मंदसौर, राजगढ़, आगर, गुना, टीकमगढ़ एवं निवाड़ी में वर्षा होने की संभावना व्यक्त की है। मालवा और निमाड़ के कई जिलों में बूंदाबांदी के आसार है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि अरब सागर से आए बादलों में पानी भरा हुआ है। राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र की हवाएं बादलों को मध्यप्रदेश के बाहर निकलने से रोक रही हैं। इस कारण काफी संभावना है कि उपरोक्त 7 जिलों में या इसके अलावा भी जहां बादल हैं, वर्षा हो सकती है। 

MP मौसम की खबर- बेमौसम बादल क्यों छाए हुए हैं

रिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षाेभ उत्तर-पश्चिमी राजस्थान पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में सक्रिय है। मध्य महाराष्ट्र पर हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है। महाराष्ट्र में ही एक प्रति चक्रवात भी बना हुआ है, जिसके कारण अरब सागर से नमी आने का सिलसिला बना हुआ है। इस वजह से मप्र में बादल छाए हुए हैं। इन तीन मौसम प्रणालियाें के सक्रिय रहने से शुक्रवार काे भी अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन हाेने की संभावना कम है। 

MP WEATHER FORECAST- आसमान पर छाए बादल कब जाएंगे

मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस के आगे बढ़ते ही मध्य प्रदेश का आसमान साफ होने लगेगा। अनुमान लगाया गया है कि शनिवार से पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ने लगेगा। यानी कि रविवार को धूप निकलेगी। मध्य प्रदेश के किसानों को अगले 48 घंटे तक खलिहान में रखी फसल की रक्षा करनी है। उल्लेखनीय है कि मंडियों में गेहूं का उपार्जन शुरू नहीं हुआ है जबकि किसानों ने फसल काट कर रख ली है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.