SBI ने उपभोक्ताओं से कहा- घबराइए नहीं, बैलेंस शीट पर कोई असर नहीं पड़ेगा - India national News

नई दिल्ली।
भारत का सबसे बड़ा बैंक घोटाला (एबीजी शिपयार्ड) मीडिया की सुर्खियों में आने के बाद स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के उपभोक्ताओं में तनाव की स्थिति बन गई। लोग बैंक में जमा अपनी पूंजी की सुरक्षा के लिए चिंता में है। इस बीच भारतीय स्टेट बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर जे स्वामीनाथन ने आश्वासन दिया है कि इससे बैंक पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। 

एबीजी शिपयार्ड लगभग 23000 करोड़ रुपए का बैंक घोटाला है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से CBI में FIR दर्ज करवाई गई है। इस मामले में SBI का नाम आने के बाद स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के खाताधारकों में तनाव की स्थिति बन गई। एसबीआई भारत का सबसे बड़ा सरकारी बैंक है। करो सरकारी कर्मचारियों के खाते इसी बैंक में है। आम जनता सबसे ज्यादा एसबीआई पर भरोसा करती है। ब्याज कम होने के बावजूद सबसे ज्यादा बैंक का एफडी एसबीआई में होती है। 

एम डी जे स्वामीनाथन ने कहा कि एबीजी शिपयार्ड कंपनी द्वारा कुल 28 बैंकों से लोन लिया गया था। उन्होंने कहा "सबसे बड़े पीएसबी होने के नाते, एसबीआई को अन्य बैंकों द्वारा सीबीआई शिकायत दर्ज करने के लिए अधिकृत किया गया था। उन्होंने कहा कि हम ज्यादा से ज्यादा रिकवरी करने की कोशिश करेंगे। इस घटनाक्रम से बैंक की बैलेंस शीट पर कोई असर नहीं पड़ेगा। भारत की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया india national news पर क्लिक करें.