MP TET VARG 3 TOPIC- बहु बुद्धि सिद्धांत और बहुआयामी बुद्धि

Theory Of Multiple Intelligence or MI Theory And Multidimensional Intelligence

हावर्ड गार्डनर ने इस सिद्धांत में यह स्पष्ट किया कि बुद्धि का स्वरूप एकाकी (Single) ना होकर  बहुकारकीय (Multiplefactors) होता है। इन्होंने अपनी बुक "फ्रेम्स ऑफ माइंड" में बुद्धि के प्रकारों का वर्णन किया है। गार्डनर ने बताया कि एक चीज को कई तरीकों से सिखाया और समझाया जा सकता है। इसलिए टीचिंग में भी कई तरीके की मेथड्स अपनाना चाहिए, क्योंकि हर एक की बच्चे की बुद्धि अलग तरीके की होती है और उनके सोचने और और सीखने के तरीके भी अलग-अलग होते हैं। 

गार्डनर ने बुद्धि के 8 प्रकारों का वर्णन किया और बाद में उन्होंने बुद्धि के अन्य प्रकारों को भी वर्णन किया परंतु मुख्य रूप से बुद्धि के 8 प्रकार ही माने गए गए प्रकार ही माने गए हैं-
बुद्धि को बुद्धि के इन 8 8 प्रकारों को याद रखने का एक छोटा सी ट्रिक है- "LLB ISI MN"
1. Linguistic intelligence(भाषाई बुद्धि) 
2.Logico-mathemetical intelligence( तार्किक- गणितीय बुद्धि) 
3.Bodily - Kinesthetic intelligence( शारीरिक- गतिक बुद्धि) 
4. Interpersonal intelligence( अंतरवैयक्तिक बुद्धि) 
5. Spatial intelligence(स्थानिक  बुद्धि) 
6. Intrapersonal intelligence( अंतःवैयक्तिक बुद्धि) 
7. Musical intelligence( संगीतीय बुद्धि) 
8.Naturalistic Intelligence ( प्राकृतिक बुद्धि) 

तो जैसा कि इन सभी बुद्धियों के नाम से ही स्पष्ट है कि जिस प्रकार की बुद्धि जिस व्यक्ति में पाई जाती है, वह व्यक्ति उसी काम को करने में सबसे ज्यादा योग्य होता है। 
परंतु इनकी थ्योरी की कुछ आलोचनाएं भी हैं जैसे-
1. यह बुद्धि सामान्य रूप से भी किसी भी व्यक्ति में पाई जा सकती हैं, जो कि जनरल इंटेलिजेंस ही हैं। 
2.इस सिद्धांत में रिसर्च और प्रमाण की कमी है।
3.इसके लिए कोई टेस्ट भी नहीं है। 
4.इसे मापा भी नहीं किया जा सकता। 
5. इसमें अनुभव जन्य साक्ष्यों की कमी है। 

बहुआयामी बुद्धि (Multi-Dimensional Intelligence) 

बहुआयामी बुद्धि का अर्थ होता है कि एक व्यक्ति या बच्चे में  विभिन्न प्रकार के कौशलों का विकास हो सकता है। 
यानी कि एक व्यक्ति में सामाजिक  समझ,राजनैतिक समझ,समस्या समाधान से संबंधित समझ, नेतृत्व के गुण आदि कई प्रकार की बुद्धि एक साथ पाई जा सकती है।
बहुआयामी बुद्धि होने के कारण ही कुछ लोग कई प्रकार के कौशलों में एक साथ निपुण होते हैं, जिसे आम बोलचाल की भाषा में मल्टीटास्किंग या मल्टीटैलेंटेट भी कहा जाता है।
मध्य प्रदेश प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के इंपोर्टेंट नोट्स के लिए कृपया mp tet varg 3 notes in hindi पर क्लिक करें.