MP KISAN NEWS- 1000 किसानों को आलू बीज उत्पादन का प्रशिक्षण दिया जाएगा

ग्वालियर।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की योजना 'एक जिला – एक उत्पाद' के तहत ग्वालियर जिले को प्रदेश सरकार द्वारा आलू उत्पादन के लिए चिन्हित किया गया है। इस कड़ी में नाबार्ड (राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक) के सहयोग से विकासखण्ड मुरार के ग्राम उटीला में “आलू मूल्य श्रृंखला” का शुभारंभ किया गया। नाबार्ड के मुख्य महाप्रबंधक श्री निरूपम मेहरोत्रा शुभारंभ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे।  

जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड श्री धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत जिले में लगभग 10 बीज गांव बनाए जाएंगे। साथ ही 1000 से ज्यादा किसानों को इससे संबंधित प्रशिक्षण दिया जायेगा। इस प्रोजेक्ट के माध्यम से ग्वालियर जिले के किसानों को आलू के बीज का उत्पादन करने में सक्षम बनाया जाएगा, ताकि किसानों को ग्वालियर से ही अच्छे किस्म के आलू के बीज काम दाम में उपलब्ध हो सके।

इस काम के लिए नाबार्ड ने अराइज फाउंडेशन को इंप्लीमेंटिंग एजेंसी के रूप में चुना है। केंद्रीय आलू अनुसंधान संस्थान, उद्यानिकी विभाग, मध्य प्रदेश सरकार एवं कृषि विश्वविद्यालय इसमें टेक्निकल गाइडेंस प्रदान करेंगे। इस योजना के अंतर्गत एक फॉर्म प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन FPO भी बनाया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश सरकार के उद्यानिकी विभाग नेशनल हॉर्टिकल्चर बोर्ड और अन्य सरकारी योजनाओं को कन्वर्जेंस के माध्यम से काम किया जाएगा।

नाबार्ड भोपाल से श्री वाईएन महादेवैया एवं श्री पंकज यादव, केंद्रीय आलू अनुसंधान संस्थान के डायरेक्टर श्री एस पी सिंह, राजमाता विजयराजे सिंधिया कृषि विश्वविद्यालय से एक्सटेंशन के डायरेक्टर श्री यादवेंद्र सिंह एवं उद्यानिकी विभाग के डिप्टी डायरेक्टर श्री सुशील गौरव जी  मुख्य रूप से उपस्थित थे। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.