BHOPAL में 9वाँ विज्ञान मेला, सभी स्टूडेंट्स के लिए नि:शुल्क, सिर्फ 4 दिन चलेगा

भोपाल
। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओम प्रकाश सखलेचा ने बताया कि 9वाँ विज्ञान मेला 7 से 10 जनवरी तक जम्बूरी मैदान, भोपाल में होगा। मेले का उद्घाटन राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल शुक्रवार को प्रात: 11बजे करेंगे। 
मंत्री श्री सखलेचा ने बताया कि मेले का आयोजन वर्ष 2012 से प्रतिवर्ष मध्यप्रदेश विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद् तथा विज्ञान भारती के संयुक्त तत्वावधान में निरंतर किया जा रहा है। मेला सभी के लिए नि:शुल्क होगा। मेले में कोरोना प्रोटोकाल का कड़ाई से पालन किया जाएगा। मास्क और सेनेटाइजर की अनिवार्यता के साथ जिला प्रशासन द्वारा एक वेक्सीन सेंटर एवं क्लीनिक की भी व्यवस्था की जायेगी।

 मंत्री श्री सखलेचा ने विज्ञान मेले के महत्व को रेखांकित करते हुए बताया कि पूर्व वर्षों में देश के ख्यातिलब्ध वैज्ञानिकों, शिक्षाविद, पर्यावरणविदों द्वारा विद्यार्थियों का मार्गदर्शन किया गया है। जिनमें प्रमुख रूप से डॉ. व्ही.के सारस्वत सदस्य नीति आयोग, भारत सरकार, डॉ. सुधीर कुमार मिश्रा, प्रतिष्ठित वैज्ञानिक एवं महानिदेशक, ब्रम्होरा, पर्यावरणविद् पद्मभूषण श्री चण्डी प्रसाद भट्ट, डॉ.जी.माघवन नायर,  पूर्व अध्यक्ष इसरो, डॉ. पी. कुन्हीकृष्णनन निर्देशक, इसरो, प्रो. एम. जगदेश कुमार कुलपति, जेएनयू  श्री यू. राजाबाबू प्रतिष्ठित वैज्ञानिक एवं निर्देशक, आरसीआई, डीआरडीओ, हैदराबाद विज्ञान भारती के संस्थापक प्रो. के. आई  वासु, कम्प्यूटर के जनक डॉ. विजय भाटकर, यूपीएससी के चेयरमेन श्री डी. पी. अग्रवाल शामिल हैं।

मंत्री श्री सखलेचा ने कहा कि विज्ञान मेला का मुख्य उद्देश्य क्षेत्रीय, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में हो रहे उन्नयन एवं विकास से जन-सामान्य को अवगत कराना है। मेला छात्रों, शिक्षकों, किसानों, कारीगरों, वैज्ञानिकों, तकनीकी विदों एवं आमजनों को आकर्षित करेगा तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी से संबंधित जानकारी ग्रहण करने के लिए परस्पर संवाद का अवसर प्रदान करेगा। 

विज्ञान मेला में मध्यप्रदेश  शासन एवं केन्द्रीय शासन के विभिन्न विभाग, राष्ट्रीय स्तर के अनुसंधान, ब्रम्होस, डीआरडीओ एनपीसीआईएल, एनटीपीसी, सीएसआईआर-आईसीएमआर लेब, विभिन्न शैक्षणिक अनुसंधान संस्थान, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग, औद्योगिकी क्षेत्र की विभिन्न कंपनियों अपनी सहभागिता करेगी तथा उनकी गतिविधियों एवं तकनीकों का प्रदर्शन करेंगी। 

विज्ञान मेले में स्टार्टअप इन्क्यूबेशन इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए विद्यार्थियों के मध्य मॉडल कॉन्टेस्ट के लिए वैज्ञानिकों एवं विषय विशेषज्ञों के साथ संवाद कार्यक्रम, क्विज प्रतियोगिता, विज्ञान नाटक एवं विज्ञान कविता आदि कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। विज्ञान मेले में प्रदेश के कारीगरों द्वारा निर्मित एवं उत्पादित तकनीक का प्रदर्शन किया जायेगा। प्रदेश के नवाचारियों को प्रोत्साहित किया जायेगा। प्रतिवर्ष मेले में मध्यप्रदेश विज्ञान प्रतिभा सम्मान भी विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के फलस्वरूप प्रदान किया जाता है। मेले में प्रतिदिन सांस्कृतिक संध्या होगी, जो इस वर्ष मेले में मुख्य आकर्षण रहेगी। 

मध्यप्रदेश विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद् के महानिदेशक प्रो. अनिल कोठारी, मेला आयोजन समिति के सचिव श्री तस्नीम हबीब, कार्यकारी संचालक, सह-सचिव डॉ. प्रवीण दिघर्रा, वरिष्ठ प्रधान वैज्ञानिक डॉ. राकेश पाण्डेय और परिषद् के वरिष्ठ वैज्ञानिक उपस्थित थे।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here