मध्य प्रदेश के 16 जिलों में शीतलहर की चेतावनी, साइलेंट हार्ट अटैक का खतरा- MP WEATHER FORECAST

भोपाल।
मध्य प्रदेश के 16 जिलों में शीतलहर के कारण स्वस्थ नागरिकों में भी हार्ट अटैक का खतरा बन गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार इंदौर, उज्जैन, टीकमगढ़, बैतूल एवं शाजापुर जिलो में अगले दो दिनों तक तीव्र शीत लहर चलेगी। जबकि 11 जिलों में 3 दिन तक शीतलहर चलती रहेगी। इस प्रकार का मौसम स्वस्थ दिखाई देने वाले नागरिकों के लिए भी जानलेवा हो सकता है।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 11 जिलों में 3 दिन तक शीत लहर, हार्ट अटैक का खतरा

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार मध्य प्रदेश के रायसेन, धार, सीहोर, छतरपुर, रतलाम, उज्जैन, गुना, मंदसौर, नीमच, भोपाल एवं अशोकनगर जिले में अगले 3 दिनों तक शीत लहर चलती रहेगी। लगातार शीत लहर चलने के कारण प्रभावित इलाकों में हार्ट अटैक एवं ब्रेन स्ट्रोक की घटनाएं बढ़ जाती हैं। केवल बच्चे, बुजुर्ग और गर्भवती महिलाएं ही नहीं बल्कि स्वस्थ देखने वाले 35 से 50 आयु वर्ग के लोग भी इसका शिकार होते हैं। यह एक प्रकार से मौसम की धारा 144 है। केवल आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले। 

मध्य प्रदेश के 24 जिलों में कोल्ड डे की चेतावनी

मौसम विभाग के अनुसार जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, मंडला, सिवनी, बालाघाट, छिंदवाड़ा, डिंडौरी, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुर, भोपाल, रायसेन, सीहोर, सागर, दमोह, धार, खंडवा एवं खरगोन जिला में अगले 2 दिनों तक कोल्ड डे बना रहेगा। यानी तापमान सामान्य से कम रहेगा। इन इलाकों में संभव है त्वचा पर ठंड का एहसास ना हो परंतु कोल्ड डे की ठंडी हवाएं शरीर के अंदर पहुंचकर काफी नुकसान पहुंचाती हैं। कृपया घर में रखा हुआ शुद्ध घी एवं कोकोनट ऑयल देखें। यदि वह पत्थर की तरह जम गया है तो घर से बाहर ना निकले। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें.