कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सुनील वर्मा रिश्वत लेते गिरफ्तार: लोकायुक्त - MP NEWS

भोपाल
। लोकायुक्त भोपाल की टीम ने दावा किया है कि उन्होंने एक छापामार कार्रवाई के दौरान नरसिंहगढ़ जिला राजगढ़ में शासकीय उचित मूल्य की दुकान के संचालक के 40000 रुपए रिश्वत लेते हुए कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सुनील वर्मा को गिरफ्तार किया है।

लोकायुक्त भोपाल की ओर से बताया गया कि आवेदक सोनू गुप्ता पिता नारायण प्रसाद गुप्ता उम्र 36 वर्ष निवासी नरसिंहगढ़ जिला राजगढ़ द्वारा 19 जुलाई 2021 को पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त भोपाल को शिकायत की गई थी। जिसमे कहा था कि वह नरसिंहगढ़ में सोसायटी राशन की दुकान चलाता है और नरसिंहगढ़ के कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सुनील वर्मा व उनके कंप्यूटर ऑपरेटर द्वारा आवेदक की दुकान का लाइसेंस निरस्त या सस्पेंड करने की धमकी देकर कर 1 लाख रुपये रिश्वत की मांग की जा रही है। क्योंकि आवेदक के द्वारा पीओएस मशीन से राशन का वितरण न करके वितरण पंजी से किया गया है। 

आवेदक की शिकायत पर सत्यापन कार्यवाही की गई, जिसमे आवेदक की शिकायत सही पाई गई। इसके बाद प्लानिंग के तहत आवेदक दुकान संचालक एवं अधिकारी सुनील वर्मा के बीच रिश्वत की रकम को लेकर मोलभाव हुआ और ₹75000 में सौदा तय हो गया। लोकायुक्त टीम ने बताया कि डील फाइनल होते ही अधिकारी सुनील वर्मा ने दुकान संचालक पर दबाव बनाकर 20 जुलाई को ₹20000 अपने व्यक्तिगत कंप्यूटर ऑपरेटर अजय यादव को दिलवा दिए थे। दिनांक 23 जुलाई 2021 को ₹40000 कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सुनील वर्मा के निर्देशानुसार उनके व्यक्तिगत कंप्यूटर ऑपरेटर अजय यादव को दिए जाने थे।

तय बातचीत के मुताबिक आवेदक सोनू गुप्ता 23 जुलाई को सुबह रिश्वत में देने के लिए 40000 रुपए लेकर लोकायुक्त कार्यालय उपस्थित हुआ था। इसके बाद शाम लगभग 4:30 बजे नरसिंहगढ़ स्थिति कनिष्ठ आपूर्ति कार्यालय में सुनील वर्मा के पर्सनल कंप्यूटर ऑपरेटर अजय यादव पिता श्यामलाल यादव, 31 वर्ष, निवासी बाराद्वारी नरसिंहगढ़ को आवेदक सोनू गुप्ता ने 40000 रुपये की जैसे ही रिश्वत की राशि दी, उसी समय लोकायुक्त टीम ने ऑपरेटर अजय यादव को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड लिया। 

इसके पश्चात मूल व्यक्ति सुनील वर्मा को पकड़ने के लिए ऑपरेटर अजय यादव के माध्यम से इन्ही 40000 रिश्वत राशि की कंट्रोल डिलीवरी नरसिंहगढ़ रेस्ट हाउस में उपस्थित कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सुनील वर्मा को कराई गई। जैसे ही रेस्टहाउस में सुनील वर्मा पिता काशीराम वर्मा 48 वर्ष नि 24/12 नॉर्थ टी टी नगर भोपाल ने राशि ली उसी समय लोकायुक्त टीम ने वर्मा को रंगे हाथों धर दबोचा। 

इस कार्रवाई में डीएसपी संजय शुक्ला, सूर्यकांत अवस्थी, टीआई नीलम पटवा, उमा कुशवाह, प्रधान आरक्षक नेहा परदेशी, आरक्षक राजेन्द्र, मनमोहन साहू, विनोद मालवीय, हेमन्त ठाकुर की मुख्य भूमिका रही।

रेस्टहाउस में निवास कर रहे थे वर्मा

हाल ही में कुछ दिन पहले सुनील वर्मा स्थानांतरित होकर नरसिंहगढ़ पहुंचे थे। ऐसे में वह वहीं पर निवास कर रहे थे। इसी के चलते 40 हजार की कंट्रोल डिलीवरी भी रेस्टहाउस में की गई थी, जहां वर्मा रिश्वत लेते पकड़े गए।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here