Loading...    
   


MPPSC 2019- सर्दी, खांसी, बुखार वाले उम्मीदवारों को अलग कक्ष में बिठाया जाएगा - GUIDELINE

इंदौर
। मध्य प्रदेश शासन के लिए राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की नियुक्ति हेतु मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित राज्यसेवा मुख्य परीक्षा 2019 के लिए विस्तृत गाइडलाइन जारी कर दी गई है। गाइड लाइन में एक खास बात यह भी है कि परीक्षा के दौरान यदि कोई उम्मीदवार सर्दी, खांसी या बुखार से पीड़ित होता है तो उसे तुरंत आइसोलेशन कक्ष में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

MPPSC Mains 2019: हर परीक्षा केंद्र में एक आइसोलेशन रूम होगा

परीक्षा केन्द्र में एक पृथक कक्ष (आइसोलेशन कक्ष) में परीक्षा संचालित की जाएगी। यह कक्ष ऐसा होना चाहिये कि कोविड-19 से प्रभावित अभ्यर्थियों को सीधे परीक्षा हेतु लाया जा सके। अन्य परीक्षार्थियों को प्रवेश अन्य दूसरे रास्ते से दिया जायेगा। कोविड पॉजिटिव परीक्षार्थी हेतु इस विशेष परीक्षा केन्द्र में उस जिले के कोविड प्रोटोकॉल के अनुसार जिला प्रशासन द्वारा आवागमन की व्यवस्था की जावेगी।

MPPSC Mains 2019: परीक्षा के बीच में उम्मीदवार संक्रमित हुआ तो क्या करेंगे

यदि परीक्षा के दौरान दिनांक 21.03.2021 से 26.03.2021 के बीच भी कोई नया अभ्यर्थी कोविड-19 से संक्रमित होता है तो उसकी शेष परीक्षाएँ भी ऐसे निश्चित केन्द्र पर ही संपन्न करानी होगी, ऐसे अभ्यर्थी हेतु उनके उपस्थिति पत्रक आदि प्रारूपों की फोटो प्रति निकाल कर संबंधित परीक्षा केन्द्र को भेजी जावेगी। संबंधित अभ्यर्थी को केन्द्र द्वारा वाहन से अन्य केन्द्र पर भेजा जावेगा। तद्नुसार प्रभावित परीक्षा केन्द्रों में पंजीकृत परीक्षार्थियों की संख्या परिवर्तित की जा सकेगी। 

MPPSC Mains 2019: कोविड-19 उम्मीदवारों की उत्तर पुस्तिका अलग रखी जाएगी

कोविड-19 के संक्रमित सभी परीक्षार्थियों को एक कक्ष में परीक्षा हेतु बैठाया जावेगा। वीक्षकीय कार्य हेतु योग्य चिकित्सक की ड्यूटी लगाई जायेगी। एक नर्सिंग स्टाफ की भी ड्यूटी रहेगी। पीपीई किट, दस्ताने, मास्क, सेनेटाईजर आदि सामग्री सहित सभी नियमों का पालन करेंगे। कोविड-19 से सकमित अभ्यर्थी की उत्तर पुस्तिका को सेनीटाइज कर अलग से लिफाफे में रखी जावेगी। इस लिफाफे पर बड़े अक्षरों में कोविड-19 संक्रमित अभ्यर्थी अवश्य ही लिखा जावे।

MPPSC Mains 2019: सर्दी, खांसी, बुखार वाले उम्मीदवारों के लिए अलग आइसोलेशन कक्ष

प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर एक पृथक कक्ष (आइसोलेशन कक्ष) बनाया जावे ताकि बुखार, सर्दी, खांसी आदि से प्रभावित अभ्यर्थियों को अलग से बिठाया जा सके। ऐसे कक्ष का आवश्यकता पढ़ने पर उपयोग किया जा सके।

MPPSC Mains 2019: कोविड-19 वाले उम्मीदवारों की वीडियोग्राफी होगी

प्रत्येक केन्द्र पर थर्मल स्केनिंग मशीन तापमान लेने हेतु रखी जावे। प्रत्येक केन्द्र पर 02 पी.पी.ई. किट अवश्य ही उपलब्ध कराये जायें। ऐसे विशेष पृथक कक्ष हेतु सी.सी.टी. वी कैमरे/विडियोग्राफी की व्यवस्था अनिवार्यतः करें। ऐसे परीक्षा कक्ष को प्रतिदिन सेनेटाईज किया जाएगा।

MPPSC Mains 2019: कोविड-19 उम्मीदवार को परीक्षा दिलाने की जिम्मेदारी प्रशासन की

जिला प्रशासन द्वारा एक बड़े सेनेटाईज UV बॉक्स की व्यवस्था की जाये, जिसमें से सेनेटाईज करने के उपरांत ही ऐसे छात्रों से उत्तरपुस्तिका एवं अन्य परीक्षा सामग्री प्राप्त की जावेगी। कोरोना प्रभावित छात्रों को परीक्षा के एक घंटे पूर्व परीक्षा केन्द्र तक लाने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के सहयोग से करेगा।

भारत सरकार द्वारा जारी, म.प्र. शासन द्वारा जारी एवं जिला स्तर पर जिला आपदा प्रबंध समिति द्वारा जारी गाईडलाईन का पालन सभी परीक्षा केन्द्रों में सुनिश्चित किया जाए। कोविड परीक्षार्थियों द्वारा परीक्षा प्रभारी को पूर्व में सूचित किये जाने हेतु स्थानीय समाचार पत्रों में भी प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की जाए।

20 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here