Loading...    
   


स्कूलों की नियमित कक्षाएं बंद होनी चाहिए: कर्मचारी संघ - MP NEWS

जबलपुर
। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि संपूर्ण प्रदेश में कोविड-19 कोरोना वायरस का प्रकोप की पुनः बढता दिखाई दे रहा है, जो शासन के भी संज्ञान में है, इसके विपरित शिक्षा विभाग द्वारा कक्षा 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के विद्यालय आने का समय प्रातः 9 से सांय 5.00 बजे तक कर दिया गया है, इस तुगलगी फरमान से कोरोना विकराल रूप से सकता है। 

जहां एक ओर कोविड-19 के विस्तार रोकने के लिए बडे महानगरों में रात्री कालीन कफदूं लागू किया जा रहा है, बाजार समय के पूर्व बन्द कराये जा रहै, हैं, दूसरे प्रदेश से आने वाले व्यक्ति पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है फिर ऐसी विषम परिस्थियों में विद्यालयों को खोले रखने कहां तक उचित है। 

संघ के योगेन्द्र दुबे, जवाहर केवट, प्रहलाद उपाध्याय, मुन्ना लाल पटैल, नरेन्द्र सेन, मनोज राय, शहजाद द्विवेदी, रजनीश पाण्डे, अजय दुबे, अरूण दुबे, विनोद साहू, बलराम नामदेव, अजय राजपूत, गोपाल पाठक, हरिशंकर गौतम, गणेश चतुर्वेदी, कैलाश शर्मा, लक्ष्मण परिहार, हर्ष मनोज दुबे, के.के.विश्वकर्मा, कृपाल झारिया, नेतराम झारिया, के.के. तिवारी, सतीश उपाध्याय, मो0 तारिख, धीरेन्द्र सोनी, संतोष तिवारी, प्रियांशु शुक्ला, मनोज पाटकर, सुदेश पाण्डे, मनीष शुक्ला, आदि ने मान0 स्कूल शिक्षा मंत्री म.प्र.शासन भोपाल को ई-मेल भेजकर मांग की है कि कोरोना के बढते प्रकोप को देखते हुए संपूर्ण म.प्र. में विद्यालय बन्द कराये जावें। 

20 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here