Loading...    
   


GWALIOR: व्यापारी की नाबालिग बेटी से नौकर ने रेप किया, धमकाया तो घर से भागी छात्रा दतिया में मिली - MP NEWS

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में पिता की हत्या करने की धमकी देकर नौकर ने व्यवसायी की 14 साल की बेटी पर हैवानियत दिखाता रहा। डरी सहमी छात्रा ने कुछ दिन पहले घबराकर घर छोड़ दिया। दतिया में एक मंदिर के बाद छात्रा बदहवास हालत में पुलिस को मिली है।   

पुलिस ने छात्रा को वन स्टॉप सेंटर पहुंचा दिया। वन स्टॉप सेंटर में काउंसलिंग के दौरान छात्रा ने नौकर की करतूत का खुलासा किया है। जिस पर दतिया पुलिस ने ग्वालियर पुलिस को मामले से अवगत कराया। दतिया में ही दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। साथ ही घटना स्थल ग्वालियर के महाराजपुरा थाना के डीडी नगर का होने पर केस डायरी महाराजपुरा पुलिस को भेजी है। ग्वालियर पुलिस ने इस मामले में पहले आरोपी सुनील गुप्ता को पकड़ा, फिर FIR की है।

महाराजपुरा थाना क्षेत्र के डीडी नगर में ही गुरुकृपा नगर है। यहां एक स्वीट्स शॉप के संचालक रहते हैं। व्यवसायी की 14 वर्षीय सपना (बदला हुआ नाम) 10वीं की छात्रा है। छात्रा के पिता की शॉप व कारखाने में सुनील गुप्ता नाम का हलवाई नौकरी करता है। काम के सिलसिले में अक्सर उसका घर आना जाना लगा रहता था। व्यवसायी भी उस पर काफी विश्वास करता था। पर सुनील की नजर व्यवसायी की बेटी पर थी। कुछ समय पहले छात्रा जब छत पर कपड़े उठाने गई थी तो वहां सुनील पहले से ही कुछ काम कर रहा था। 

छात्रा को अकेला देखकर उसने उसे पकड़ लिया। उसका मुंह दबाकर कोने में ले जाकर दुष्कर्म कर दिया। जब छात्रा रोने लगी तो सुनील ने धमकाया कि उसने किसी से इस बात का जिक्र किया तो वह उसके पिता की हत्या कर देगा। जिससे छात्रा डर गई और चुप रही। पर इसके बाद जब भी मौका मिलता सुनील उसे परेशान करता। अकेला देखकर उसके पास आकर अश्लील हरकत करता था।

14 फरवरी को व्यवसायी दुकान पर जा रहा था। घर पर छात्रा अकेली थी। जाते समय व्यवसायी ने बेटी को बताया था कि शाम को सुनील अंकल घर पर किसी काम से आएंगे। इस पर छात्रा घबरा गई। उसे लगा कि वह उसके साथ दुष्कर्म करेगा। डरी और सहमी छात्रा ने घर छोड़ दिया। पहले वह दतिया जा चुकी थी। इसलिए बस स्टैंड से दतिया जाने वाली बस में सवार हो गई। यहां वह दो दिन तक एक मंदिर पर रही। मंदिर के बाहर वह पुलिस को मिली। बदहवास हालत में बच्ची को देखने पर पुलिस ने उसे निगरानी में लिया।

दतिया में मंदिर पर रात गुजारने के बाद भूखी प्यासी छात्रा बदहवास हालत में पुलिस को मिली। पुलिस ने उसे वन स्टॉप सेंटर भेजा। जहां पर काउंसलिंग में घटना का खुलासा हुआ। बाद उसके परिजनों को बुलाकर छात्रा को उनके सुपुर्द किया। दतिया पुलिस ने शून्य पर मामला दर्ज कर केस डायरी महाराजपुरा थाने भेज दी।

जैसे ही घटना का पता लगा तो पुलिस ने बिना देर किए आरोपी सुनील गुप्ता के घर पर दबिश दी। आरोपी को भी पता चल गया था कि छात्रा ने उसके खिलाफ बयान दिया है। वह भागने की फिराक में था, लेकिन पुलिस ने समय रहते उसे पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के बाद इस मामले में महाराजपुरा थाना में मामला दर्ज किया है।

इस मामले में आरोपी को पहले पकड़ा है और उसके बाद महाराजपुरा थाना में मामला दर्ज किया गया है। आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल किया है।
रवि भदौरिया, सीएसपी महाराजपुरा

1 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here