Loading...    
   


मध्यप्रदेश में आंधी-तूफान का खतरा, 1.5Km ऊपर हवाओं का चक्रवात - MP WEATHER FORECAST

भोपाल।
मध्य प्रदेश के 6 संभागों के करीब 30 जिलों में आंधी-तूफान का खतरा बना हुआ है। कई इलाकों में तेज हवाएं चल रही है। शुक्रवार सुबह से बारिश हो रही है। बादलों ने आसमान को पूरी तरह से ढक लिया है। सुबह से सूरज की एक किरण तक दिखाई नहीं दी। मध्य प्रदेश के उत्तर पूर्वी आसमान पर 1.5Km ऊपर हवाओं का चक्रवात बना हुआ है। वैज्ञानिकों का कहना है कि कम से कम शनिवार तक यही हालात रहेंगे।

मध्यप्रदेश में ओलावृष्टि और वज्रपात की संभावना

मध्यप्रदेश में शुक्रवार को मौसम का मिजाज एक बार फिर से बदल गया। सुबह से ही बादल छा गए और हल्की बारिश होने लगी। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के कई जिलों में रिमझिम बारिश शुरू हो गई है। मौसम विभाग का अनुमान है कि ऐसे मौसम में ओले गिरने की भी आशंका है। तेज हवा और गरज के साथ बिजली भी गिर सकती है। इसलिए नागरिकों से अपील की जाती है कि जब तक बहुत जरूरी ना हो घरों से ना निकले।

मध्य प्रदेश के 6 संभागों में बारिश हो रही है, सुबह से सूरज नहीं निकला

राजधानी भोपाल समेत होशंगाबाद, रीवा, सागर, ग्वालियर के अलावा जबलपुर संभाग के कुछ जिलों में बादल छाए हुए हैं और बारिश हो रही है। मौसम वैज्ञानिक के अनुसार, वेस्टर्न डिस्टर्बन्स के कारण मौसम में परिवर्तन हो रहा है। इसके कारण पूर्वी मध्यप्रदेश में नार्थ-ईस्ट में डेढ़ किमी ऊपर चक्रवातीय हवाओं का घेरा बना हुआ है। 

मध्य प्रदेश में मौसम का पूर्वानुमान, बादल और बारिश कब तक रहेंगे

इस मौसम से तापमान में एक-दो डिग्री का अंतर आएगा। न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी और अधिकतम तापमान में गिरावट आ सकती है। मौसम से हुए बदलावव के कारण कई जगह रिमझिम बारिश हो रही है। ऐसे मौसम में गरज के साथ बिजली चमकने के साथ ही ओले गिरने की आशंका रहती है। मौसम विभाग के अनुसार ऐसा मौसम शनिवार शाम तक रह सकता है।

12 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here