Loading...    
   


MP BOARD EXAM बीच का रास्ता निकालने की कोशिश, जुलानिया सर की प्रतिष्ठा का प्रश्न - HINDI NEWS

भोपाल
। माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्य प्रदेश के चेयरमैन राधेश्याम जुलानिया द्वारा 10वीं हाई स्कूल एवं 12वीं हाई सेकेंडरी स्कूल परीक्षाओं के लिए लागू किया गया नया पैटर्न शिक्षा विभाग की प्रिंसिपल सेक्रेट्री रश्मि अरुण शमी ने रद्द करवा दिया है। एमपी बोर्ड ने अब तक पुराने पैटर्न का नया ब्लू प्रिंट जारी नहीं किया है। बताया जा रहा है कि बीच का रास्ता निकालने की कोशिश की जा रही है ताकि एमपी बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन की प्रतिष्ठा बची रहे। 

मध्य प्रदेश के 19 लाख स्टूडेंट्स परेशान 

माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्यप्रदेश के माध्यम से 19 लाख स्टूडेंट इस साल 10वीं हाई स्कूल एवं बारहवीं हायर सेकेंडरी स्कूल बोर्ड परीक्षाओं के लिए शामिल हो रहे हैं। एमपी एजुकेशन बोर्ड द्वारा पिछले दिनों नया पैटर्न लागू कर दिया गया था। नए पैटर्न पर आधारित ब्लूप्रिंट भी जारी कर दिए गए थे। इसके बाद बड़े अफसरों के बीच प्रतिष्ठा की लड़ाई शुरू हुई और शिक्षा विभाग में एमपी बोर्ड के नए पैटर्न को रद्द कर दिया। 

एमपी बोर्ड परीक्षाओं के लिए नया ब्लूप्रिंट कब जारी होगा

बड़े अफसरों के बीच हार जीत का फैसला हो ना हो लेकिन इस लड़ाई में विद्यार्थी परेशान हो रहे हैं, क्योंकि एमपी बोर्ड ने अब तक शिक्षा विभाग द्वारा करवाए गए फैसले को मानते हुए पुराने पैटर्न पर पेपर का ब्लू प्रिंट जारी नहीं किया है। जब तक ब्लू प्रिंट जारी नहीं होगा तब तक शिक्षकों को समझना मुश्किल है कि विद्यार्थियों को क्या पढ़ाना है। कोरोनावायरस संक्रमण काल के कारण टोटल 90 दिन भी क्लास नहीं लगी है। ऐसे में विद्यार्थियों से पूरे कोर्स को याद करने की उम्मीद करना निश्चित रूप से गलत होगा।

07 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here