Loading...    
   


कमलनाथ समर्थकों को भोपाल पुलिस ने नहला धुला कर पीटा और वापस भेज दिया - MP NEWS

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में किसान आंदोलन के नाम पर प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ और उनके समर्थकों ने अपना शक्ति प्रदर्शन किया। केंद्र की राजनीति में वापस जाने की अटकलों के बाद कमलनाथ ने आज राजधानी में कांग्रेस पार्टी के अंदर अपना समर्थन प्रदर्शित किया। कमलनाथ समर्थक कांग्रेस कार्यकर्ता जवाहर चौक से राजभवन की तरफ आगे बढ़े। रोशनपुरा पर पुलिस ने उन्हें रोक लिया और वाटर कैनन से नहलाने के बाद कुछ अति उत्साही कार्यकर्ताओं को लाठियों से पीटा। इसी के साथ कमलनाथ का किसान आंदोलन संपन्न हुआ। 

दिग्विजय सिंह और उनके बेटे सहित 20 नेताओं ने गिरफ्तारी दी 

प्रदर्शन के बाद कमलनाथ के सबसे वरिष्ठ साथी एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह उनके बेटे जयवर्धन सिंह सहित 20 नेताओं ने गिरफ्तारी दी। गिरफ्तार होने वाले नेताओं में किसी के भी साथ पुलिस ने बल प्रयोग नहीं किया। शांतिपूर्वक गिरफ्तारी का कार्यक्रम संपन्न हुआ। 

पानी की बौछार पढ़ते ही कांग्रेस पार्टी का किसान आंदोलन समाप्त 

जवाहर चौक से आगे बढ़ते हुए कांग्रेस पार्टी के आंदोलनकारी जैसे ही रोशनपुरा चौराहे पर पहुंचे पुलिस पहले से उनका इंतजार कर रही थी। यहां पुलिस को ज्यादा परेशान नहीं करना पड़ा। जैसे ही वाटर के नाम से पानी की बौछार मारी गई, कमलनाथ समर्थक कांग्रेस कार्यकर्ता तितर-बितर हो गए। मीडिया के कैमरे को फुटेज देने के नाम पर भी कमलनाथ समर्थक पानी के सामने रुकने को तैयार नहीं थे। 


पुलिस की पिटाई से लगभग एक दर्जन कांग्रेस कार्यकर्ता चोटिल 

कार्यक्रम के दौरान कुछ उत्साहित कार्यकर्ता पुलिस से भिड़ गए। पुलिस में उनकी लाठियों से पिटाई कर डाली। प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ वहां पर मौजूद नहीं थे। ना ही उन्होंने पुलिस के कथित लाठीचार्ज के खिलाफ कोई धरना प्रदर्शन किया। सोशल मीडिया पर कांग्रेस पार्टी द्वारा लगभग 10 कार्यकर्ताओं के फोटो जारी किए गए हैं जिन्हें चोटें आई हैं।

सोशल मीडिया पर आकर फिर भड़के कमलनाथ 

किसान आंदोलन के नाम से आयोजित कार्यक्रम का नेतृत्व कमलनाथ खुद कर रहे थे लेकिन पुलिस की कार्यवाही के बाद कमलनाथ ने मैदान और माइक छोड़ दिया। सोशल मीडिया पर आकर उन्होंने अपनी भड़ास निकाली। कमलनाथ ने सोशल मीडिया अकाउंट पर लिखा, ‘शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हजारों किसान भाइयों और कांग्रेसजनों पर शिवराज सरकार के इशारे पर बर्बर लाठीचार्ज किया गया। आंसू गैस के गोले छोड़े और वॉटर कैनन भी चलाई।’ 

विनय बाकलीवाल बोले: मेरी तो कलाई टूट गई 

इंदौर के कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने बताया कि हम लोग जवाहर चौक पर जुटे थे। यहां से शांतिपूर्वक प्रदर्शन करते हुए राजभवन की ओर बढ़े। हमें रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस तैनात थी। हम कुछ समझ पाते इससे पहले ही पानी की बौछार पड़ने लगी। आंसू गैस के गोले भी छोड़े। पुलिस ने डंडा बरसाना शुरू कर दिया। बचने के लिए मैं पीछे हटा, तो तीन लाठी पीठ पर और एक लाठी कलाई में लगी। यहां से बचकर निकला तो एक व्यक्ति ने मुझे अपनी दुकान में बैठाया।  

23 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here