Loading...    
   


ड्रीम मैनेजमेंट इंटनर्ल थैरेपिस्ट की तरह गहरी नींद और सपने दोनों कामयाबी दिलाते हैं - MOTIVATIONAL ARTICLE

शक्ति रावत।
अक्सर लोग अपनी नींद और सपनों को लेकर लापरवाह होते हैं, लेकिन कम ही लोगों को पता है, कि अच्छी गहरी नींद और सपनों का आपकी सेहत के साथ ही जीवन में आपकी कामयाबी से भी गहरा नाता होता है। 

दरअसल कुदरत की बनाई कोई भी चीज बेकार नहीं है, इंसान उसकी कद्र करे या नहीं यह बिल्कुल दूसरी बात है। गहरी नींद पर हम फिर कभी बात करेंगे, लेकिन आज बात ड्रीम मैनेजमेंट के सबसे अहम हिस्से सपनों की। दरअसल सपने सिर्फ नींद में समय बिताने का साधन नहीं है, ये आपको प्रेरणा, ताकत और डर पर काबू पाने के साथ ही तनाव दूर करने तक की ताकत दे सकते हैं। तो आईये बात करते हैं, सपनों की ताकत की।

डरों पर काबू पाने में मददगार

शोध कहते हैं, कि अकसर लोगों के अंदर जो डर छिपे रहते हैं, वे अपने सपनों में उन्हीं डरों को अलग-अलग रूप में देखते हैं, लेकिन असल में यह कुदरत की आपको उस खतरे के लिए तैयार करने की प्रणाली है, ऐसा इसलिये होता है, ताकि वास्तव में जब कभी आपका उस डर से सामना हो तो आपको सर्वाइव करने में दिक्कत ना हो क्यों कि अपने सपने में आप कई बार उस डर का सामना कर चुके होते हैं। इस तरह से सपने आपको आपके डर से बाहर निकालने में मददगार होते हैं।

तनाव दूर करते हैं

प्रोफेसर कर्टराइट ने अपनी रिर्सच में साबित किया है, कि नींद के दौरान सपने देखने से आपका तनाव कम होता है। यह आपको पिछली भावनाओं के साथ दोबारा जोड़ते हैं, जिससे आपको मानसिक शांति मिलती है, इस तरह देखा जाए तो सपने आपके तनावों के लिए इंटर्नल थैरेपिस्ट की भूमिका निभाते हैं।

परिस्थितियों का सामना करना सिखाते हैं

फिलिकल के साथ ही आपके सपने आपकी इमोशनल हेल्थ पर भी गहरा असर डालते हैं। मोहकैमसिन का कहना है कि, लोगों पर की गई रिसर्च में उन्होंने पाया कि कई लोगों को अपनी मुश्किल परिस्थतियों से बाहर निकलने में सपनों से बहुत मदद मिली। शोध में पता चला कि कुछ ट्राइव्स सपनों के जरिये ही अपनी मुश्किल परिस्थतियों का सामना कर पाए।

रचनात्म प्रेरणा भी देते हैं, सपने

दुनिया में ऐसे कई कलाकार हैं, जो सपने देखकर ही अपने बेहतर काम के लिए प्रेरित हुए हैं, पॉल मैकार्टनी का कहना था कि, 1965 में उन्हें अपने फेमस गाने येस्टरडे की धुन सपने में ही सुनाई दी थी, यानि सपने सिर्फ आपको भावनात्मक तल पर ही मजबूती नहीं देते बल्कि कई बार रचनात्मक प्रेरणा देने का काम भी करते हैं। -लेखक मोटीवेशनल स्पीकर और लाइफ मैनेजमेंट कोच हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here