Loading...    
   


कैलाश विजयवर्गीय ने किसान आंदोलन को फर्जी बताया - INDORE NEWS

इंदौर
। पूरे देश से किसान आंदोलन की खबरें आ रहीं हैं। केंद्र सरकार के मंत्रीगण किसान प्रतिनिधियों से लगातार बातचीत कर रहे हैं और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि किसान आंदोलन में शामिल लोगों में से 90 प्रतिशत तो किसान ही नहीं हैं। इसका तात्पर्य यह हुआ कि किसानों पर नाम पर फर्जी लोग आंदोलन कर रहे हैं। 

किसान आंदोलन पर कैलाश विजयवर्गीय का वायरल बयान 

कैलाश विजयवर्गीय ने देशभर में चल रहे किसान आंदोलन पर कहा कि देश में जो किसान आंदोलन चल रहा उसमें मुझे लगता है कि 90 प्रतिशत किसान हैं ही नहीं, सिर्फ 10 प्रतिशत ही किसान आंदोलन में सम्मिलित हैं। बल्कि इस आंदोलन को जो ताकतें सपोर्ट कर रही है, वो इस देश के लिए आलार्मी है। देश की जनता को समझना चाहिए कि किसानों के नाम पर राजनीति कौन कर रहा है। 

दूसरे देशों के राष्ट्रपतियों ने किसान आंदोलन का समर्थन क्यों किया

विदेशों के राष्ट्रपतियों के समर्थन करने पर विजयवर्गीय ने सवाल उठाये कि उन्होंने क्यों समर्थन किया इसकी तह तक जाना चाहिये। ब्रिटेन में भारतीय दूतावास के सामने किसान आंदोलन का समर्थन किया। ये कौन लोग इनकी तह में जाना चाहिए और समझना चाहिये कि किसानों के नाम पर राजनीति कौन कर रहा है। 

मोदीजी ने तो कांग्रेस के घोषणा पत्र पर आधारित बिल बनाया है: कैलाश विजयवर्गीय

उन्होंने कहा कि इससे अच्छा बिल हो ही नही सकता है। ये किसानों की समृद्धि का बिल है, गांवों की उन्नति का बिल है। उनकी आमदनी को दुगुना करने वाला बिल है। वहीं उन्होंने कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि बिल के अंदर जो प्रावधान हैं, उन्हें कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में शामिल किया था पर किसानों ने कांग्रेस पर विश्वास नही किया और मोदी जी ने उन सब प्रावधानों को लागू कर दिया तो कांग्रेस को लगता है कि उनके हाथ का हथियार भी छीन लिया है। किसानों को बिल के बारे में सोचना चाहिए।

10 दिसम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here