Loading...    
   


Fastag App अपडेट: नया फीचर आया, बैलेंस पता चलेगा

नई दिल्ली।
NHAI (भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण) ने Fastag App में नया फीचर जोड़ने के लिए उसे अपडेट किया है। इससे यूजर्स फास्‍टैग अकाउंट का बैलेंस पता लगाया जा सकेगा। Indian Highways Management Company Ltd के अनुसार, My FASTag APP में खाते उपलब्ध बैलेंस की स्थिति रंगों के जरिये दिखाएगा। यदि आपके पास My FASTag APP नहीं है तो उसे गूगल प्ले स्टोर से अभी डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

एनएचएआई ने बताया कि एक जनवरी 2021 से टोल प्लाजा पर FASTag के अनिवार्य होने और इसके सुचारु क्रियान्वयन के लिए एनएचएआई ने मोबाइल एप ‘माई फास्‍टैग एप’ अपडेट किया है। इसमें नया फीचर ‘चेक बैलेंस स्‍टेटस’ जोड़ा गया है। इसके जरिये अकाउंट बैलेंस का स्‍टेटस पता लगाया जा सकता है। 

इस नए फीचर से हाईवे का इस्‍तेमाल करने वालों और टोल ऑपरेटर दोनों को मदद मिलेगी। वे फास्‍टैग में उपलब्ध बैलेंस के बारे में सही समय पर जानकारी कर सकेंगे। इससे बैलेंस को लेकर विवाद का समाधान होगा। 

ब्‍लैक लिस्‍ट के प्रदर्शन की समयसीमा घटाई

इसके अलावा प्राधिकरण ने ईटीसी (इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्‍शन) सिस्‍टम में स्थिति का अपडेट शीघ्रता से करने और सुगम यात्रा के लिए ‘ब्‍लैक लिस्‍ट’ में डाले गए टैग की ताजा स्थिति दिखाने को लेकर समयसीमा को मौजूदा 10 मिनट से घटाकर 3 मिनट कर दिया है।

प्राधिकरण के अनुसार, ‘माई फास्‍टैग एप’ फास्‍टैग में बैलेंस की स्थिति रंगों के जरिये दिखाएगा। हरा रंग टैग के एक्टिव होने और पर्याप्त बैलेंस को दर्शाएगा। जबकि नारंगी (ऑरेंज/अम्बर) रंग कम राशि और लाल रंग ब्‍लैकलिस्‍टेड टैग के बारे में बताएगा।

फास्टैग रिचार्ज ऑनलाइन

ऑरेंज रंग की स्थिति में वाहन चालक तत्काल फास्‍टैग को मोबाइल ऐप या टोल प्लाजा प्वाइंट ऑफ सेल के जरिये रिचार्ज करा सकते हैं। देश भर में 26 बैंकों की भागीदारी के साथ टोल प्लाजा पर 40,000 से अधिक पीओएस बनाए गए हैं।

नए फीचर का मकसद टोल प्लाजा पर टैक्‍स का पेमेंट फास्‍टैग के जरिये सुनिश्चित करना और भुगतान में लगने वाले समय में कमी लाना है। इससे यात्रा समय और ईंधन की बचत होगी।

Fastag क्या है 

Fastag इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है. इसमें रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल होता है। इस टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है। जैसे ही आपकी गाड़ी टोल प्लाजा के पास आती है, तो टोल प्लाजा पर लगा सेंसर आपके वाहन के विंडस्क्रीन पर लगे फास्टैग को ट्रैक कर लेता है।

इसके बाद आपके फास्टैग अकाउंट से उस टोल प्लाजा पर लगने वाला शुल्क कट जाता है। इस तरह आप टोल प्लाजा पर रुके बगैर शुल्क का भुगतान कर पाते हैं। वाहन में लगा यह टैग आपके प्रीपेड खाते के सक्रिय होते ही अपना काम शुरू कर देता है। वहीं, जब आपके फास्टैग अकाउंट की राशि खत्म हो जाती है, तो आपको उसे फिर से रिचार्ज करवाना पड़ेगा।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here