Loading...    
   


भाजपा सांसद को खुश करने 79 निर्दोष छात्रों को पुलिस ने रातभर हिरासत में रखा - JABALPUR MP NEWS

जबलपुर
। कुछ समय पहले तक पुलिस नेताओं को खुश करने के लिए कुछ अपराधियों के खिलाफ नरम रुख अपनाती थी परंतु अब माहौल बदल गया है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद राकेश सिंह को खुश करने के लिए पुलिस ने वेटनरी हॉस्टल से 79 निर्दोष छात्रों को रात भर हिरासत में रखा। यदि मीडिया दखल ना देती तो उन्हें जेल भी भेजा जा सकता था। 

मामला क्या है 
जबलपुर के सांसद एवं भाजपा नेता राकेश सिंह के भाई मुन्ना सिंह का बेटा है तनिष्क सिंह। रात 11:45 बजे के लगभग वह कार MP20 CF 5493 से सर्किट हाउस नंबर दो के सामने से निकल रहा था। उसी दौरान वेटरनरी कॉलेज के छात्र के वाहन से मामूली टक्कर लगी थी। जिसके कारण कार पर हल्का सा स्क्रैच आ गया। प्लेटफार्म नंबर एक के सामने वेटरनरी कॉलेज के कुलपति बंगले के सामने ये पूरा विवाद हुआ। 

स्टूडेंट ने माफी मांगी लेकिन सांसद का भतीजा नहीं माना

प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक गाड़ी में स्क्रैच लगने पर वेटरनरी कॉलेज छात्र ने माफी मांगी। बावजूद सांसद के भतीजे तनिष्क सिंह और उसके दोस्तों ने उसके साथ मारपीट की और उसे सजा के तौर पर सड़क पर सबके सामने मुर्गा बनने के लिए दबाव डालने लगे। तनिष्क सिंह के चंगुल से बचने के लिए उसने अपने दोस्तों को बुला लिया। दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई और छात्र वहां से भाग कर अपने हॉस्टल चले गए।

सबसे पहले भाजपा नेताओं ने हॉस्टल में घुसकर प्रोफेसर और स्टूडेंट्स को पीटा 

सांसद के भतीजे के साथ झगड़े की खबर सिविल लाइंस थाने के सामने पूर्व MCI सदस्य कमलेश अग्रवाल के कार्यालय पहुंची तो वह अपने 20-25 समर्थकों के साथ मौके पर पहुंच गए। MCI सदस्य कमलेश अग्रवाल और उनके समर्थकों ने कैम्पस में घुसकर वेटरनरी कॉलेज के छात्रों और रोकने पहुंचे प्रोफेसरों के साथ मारपीट की। जान बचाने के लिए हॉस्टल के छात्रों ने हमलावरों पर पथराव किया। इस पथराव में भारतीय जनता पार्टी के लगभग 6 नेताओं को चोट आई है। जबकि भाजपा नेताओं के हमले से एक दर्जन से ज्यादा छात्र एवं प्रोफेसर घायल हुए।

फिर पुलिस घुस आई और सब को उठा ले गई

बताया जा रहा है कि सांसद राकेश सिंह को खुश करने के लिए पुलिस ने हॉस्टल से करीब 82 छात्रों को हिरासत में ले लिया। इसमें से अधिकतर को पता भी नहीं था कि पुलिस उन्हें किस गुनाह में ले जा रही है। कड़कड़ाती ठंड में खमरिया के थाने में सभी को रखा गया। जबकि हॉस्टल पर हमला करने वाले भाजपा नेताओं को हिरासत में नहीं लिया गया।

79 निर्दोष छात्रों को छोड़ना पड़ा, एक तरफा मामला दर्ज 

सुबह जब शहर में इस घटना की खबर सब को लगी तो सोशल मीडिया पर काफी निंदा होने लगी। जबलपुर के पत्रकारों ने पूछताछ शुरू कर दी। इसके चलते पुलिस को 79 निर्दोष छात्रों को छोड़ना पड़ा। पुलिस ने सांसद के भतीजे तनिष्क राज सिंह की शिकायत पर वेटरनरी के स्कॉलर छात्र डॉक्टर नरेंद्र सिंह तोमर समेत 100 के खिलाफ सिविल लाइंस में धारा 294, 279, 323, 324, 365, 336, 337, 147, 148, 149 व 506 भादवि का केस दर्ज कर लिया है परंतु समाचार लिखे जाने तक हॉस्टल पर हमला करने वाले भाजपा नेताओं के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया।

28 दिसम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here