Loading...    
   


चुनाव हारने के बावजूद इमरती देवी मंत्री पद से इस्तीफा देने को तैयार नहीं, कहतीं हैं सरकार मेरी है - MP NEWS

ग्वालियर
। मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी चुनाव हार चुकी है। लेकिन मंत्री पद से इस्तीफा देने को तैयार नहीं है। बुधवार को उन्होंने भोपाल में पत्रकारों से बात करते हुए साफ कहा कि मैं इस्तीफा नहीं दूंगी। 

उल्लेखनीय है कि श्रीमती इमरती देवी ने डबरा विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़ा था और वह पराजित हो चुकी है। मध्यप्रदेश विधानसभा उपचुनाव 2020 में श्रीमती इमरती देवी एक चर्चित चेहरा थी। ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने पर, ज्योतिरादित्य सिंधिया के कहने पर शिवराज सिंह सरकार में इमरती देवी को मंत्री पद दिया गया था। निर्धारित प्रावधान के अनुसार उन्हें चुनाव लड़कर विधायक बनना था परंतु वह चुनाव हार चुकी है। 

इमरती देवी इस्तीफा क्यों नहीं देंगी, पढ़िए उनका बयान 

श्रीमती इमरती देवी का कहना है कि मैं चुनाव हारी नहीं हूं... जीती हूं। सत्ता सरकार मेरी है, जो चुनाव जीत गए हैं वह एक हैंडपंप भी नहीं लगा पाएंगे। विधायक निधि का सारा पैसा कोरोना फंड में चला गया। अब वह क्या खर्च कर पाएंगे। 

एदल सिंह कंसाना ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया 

कांग्रेस से भारतीय जनता पार्टी में शामिल होकर बिना चुनाव लड़े मंत्री बने एदल सिंह कंसाना भी उप चुनाव हार चुके। उन्होंने अपनी हार को स्वीकार करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

12 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here