Loading...    
   


BHOPAL के शराब ठेकेदार ने लंदन में रह रही बेटी से गुहार लगवाई - MP NEWS

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के बैरागढ़ क्षेत्र में रहने वाले शराब ठेकेदार किशन असुदानी ने लंदन में पढ़ रही है अपनी बेटी दिव्या असुदानी से गुहार लगवाई है। दिव्या ने सोशल मीडिया पर सीएम शिवराज सिंह चौहान, गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा सहित को टैग करते हुए एप्लीकेशन अपलोड की है। दिव्या का कहना है कि आबकारी विभाग के कुछ अधिकारी उसके पिता को झूठे मामलों में फंसाना चाहते हैं। 

सीएम से लेकर एसपी रायसेन तक सबको टैग किया

शराब ठेकेदार किशन असुदानी की बेटी दिव्या ने लंदन से सीएम शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को ट्वीट कर प्रमुख सचिव दीपाली रस्तोगी को पत्र लिखने के साथ ही डीजीपी विवेक जौहरी, डीआईजी इरशाद वली और रायसेन एसपी मोनिका शुक्ला को भी पत्र लिखा है।

लंदन में बैठकर न्याय की गुहार लगाई

दिव्या ने बताया कि, उसके पिता एवं शराब ठेकेदार किशन असुदानी ने कुछ दिन पहले ही शराब से जुड़े मामले में गवाही दी थी जिसके बाद से उन्हें झूठे मामले में फंसाने की साज़िश रची गई है। जिसमें आबकारी विभाग के कुछ अधिकारियों पर फंसाने के आरोप भी लगाए हैं। 

एक सवाल: किशन असुदानी मीडिया के सामने क्यों नहीं आया 

इस पूरे मामले में सिर्फ एक सवाल उपस्थित होता है। किशन असुदानी एक शराब ठेकेदार है। शराब ठेकेदार यानी समाज का व्यक्ति जो आम नागरिकों से ज्यादा जोखिम उठाता है और ताकतवर होता है। उसे नौकरशाही से डील करना आता है। और उसकी पहुंच मीडिया तक भी आसानी से हो जाती है। सवाल यह है कि किशन असुदानी ने अपनी बेटी को सामने क्यों किया, वह खुद कहां है और मामले का खुलासा करने के लिए मीडिया के सामने क्यों नहीं आया। 

दिव्या ने मामले को उठाने के लिए ट्विटर पर नया अकाउंट बनाया है 

इस मामले में एक और खास बात यह है कि शराब ठेकेदार किशन की बेटी दिव्या ने प्रॉपर इसी केस को उठाने के लिए ट्विटर पर नया अकाउंट बनाया है। एक ही आवेदन को दो बार अपलोड किया गया है। पहली बार सीएम शिवराज सिंह चौहान को ट्रैक किया गया और दूसरी बार गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा को।


4 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here