Loading...    
   


आश्रम: मध्य प्रदेश में 6 लड़कियों को मुक्त कराया, पुलिस और प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई - MP NEWS

इंदौर।
सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वेब सीरीज 'आश्रम' चर्चाओं में है और इसी से मिलती जुलती एक कहानी का देवास में पर्दाफाश हुआ है। पुलिस और प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई के दौरान आश्रम से 6 लड़कियों को मुक्त कराया गया है। इसके अलावा एक अविवाहित गर्भवती युवती, कन्या को जन्म दे चुकी है, इस मामले में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज किया गया है। आश्रम के बाबा सहित सभी का डीएनए टेस्ट कराया जा रहा है। 

पुलिस के मुताबिक डीएनए रिपोर्ट आने और जांच पूरी होने के बाद आश्रम के खिलाफ आगे की कार्रवाई की जाएगी। तंबू में संचालित इस आश्रम को 'कबीर आश्रम' नाम दिया गया है। पुलिस का कहना है कि आश्रम में जो लड़कियां मिली है उनके साथ भी अनैतिक कृत्य होने की भी शंका है, जिसकी जांच की जा रही है। ये कबीर आश्रम जिले की चुना खदान व जामगोद के पास मौजूद है।

क्या था मामला 
देवास के जिला अस्पताल में 2 महिलाएं 22 साल की एक गर्भवती लड़की को भर्ती करवाकर चली गई थी। डॉक्टर ने बताया कि लड़की मूकबधिर और मंदबुद्धि है। अस्पताल में लड़की नहीं बेटी को जन्म दिया। लावारिस होने के कारण अस्पताल ने इसकी सूचना प्रशासन को दी। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कराई गई काउंसलिंग में आश्रम का खुलासा हुआ। इसके बाद पुलिस और प्रशासन की टीम ने मिलकर छापामार कार्रवाई की।

25 नवम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here