Loading...    
   


राघवेंद्र सिंह तोमर कौन है, जिनके यहां सबसे चर्चित आयकर का छापा पड़ा, यहां पढ़िए / WHO IS RAGHVENDRA SINGH TOMAR

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी में FAITH BUILDER AND DEVELOPER BHOPAL के ऑफिस एवं उससे संबंधित ठिकानों पर आयकर विभाग में छापामार कार्रवाई की। कोरोना काल में जबकि इस तरह की छापामार कार्रवाई लगभग बंद है, FAITH BUILDER AND DEVELOPER पर पड़ा छापा अचानक सुर्खियों में आ गया और इसी के साथ सुर्खियों में आ गए फेथ बिल्डर्स के मालिक RAGHVENDRA SINGH TOMAR. आइए जानते हैं राघवेंद्र सिंह तोमर कौन है, कहां के रहने वाले हैं और इनकी लाइफ की स्टोरी क्या है:- 

राघवेंद्र सिंह तोमर कहां के रहने वाले हैं, पिता क्या करते थे

राघवेंद्र सिंह तोमर मूल रूप से मुरैना जिले के पोरसा तहसील के छेरिया गांव के और रहने वाले हैं। राघवेंद्र सिंह के पिता श्री परमाल सिंह तोमर भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी थे और आईजी के पद से रिटायर हुए थे। यानी राघवेंद्र सिंह का बचपन ब्यूरोक्रेट्स के बीच में ही गुजरा है। स्कूल एजुकेशन ग्वालियर से करने के बाद हायर एजुकेशन के लिए राघवेंद्र तोमर को इंदौर भेजा गया था। राघवेंद्र सिंह ने DAVV से ग्रेजुएशन किया है। 

राघवेंद्र सिंह तोमर के करियर की कहानी

राघवेंद्र सिंह ने अपने करियर की शुरुआत सरकारी ठेकेदार के रूप में की। क्योंकि उनके पिता एक रिटायर्ड आईपीएस थे इसलिए आईएएस-आईपीएस लॉबी उनके लिए पहले से ही काफी कंफर्टेबल थी और राघवेंद्र सिंह ने इसका पूरा फायदा उठाया। मंत्रालय में डायरेक्ट कनेक्शन के चलते उनका कारोबार तेजी से बढ़ता गया। सत्ता में भारतीय जनता पार्टी थी इसलिए भाजपा नेताओं से संबंध बनाना जरूरी था और फिर अरविंद भदौरिया तो खुद चंबल से आते हैं।

राघवेंद्र सिंह तोमर के पास कितनी संपत्ति है

राघवेंद्र सिंह तोमर के इंदौर और भोपाल में कई घर हैं। वह भोपाल में क्रिकेट स्टेडियम और अकादमी का संचालन करते हैं। इसी साल टी-20 टूर्नामेंट का आयोजन कराया था, जिसमें जहीर खान उद्घाटन करने आए थे और मुंबई टीम से सचिन तेंदुलकर का बेटा खेलने आया था। 

राघवेंद्र सिंह तोमर के मंत्री अरविंद सिंह तोमर से कैसे संबंध है

आयकर के छापे के बाद राजनीतिक गलियारों में सबसे ज्यादा चर्चा सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया से राघवेंद्र सिंह तोमर के कनेक्शन को लेकर हो रही है। राघवेंद्र सिंह तोमर का फेसबुक पेज पर उनकी और अरविंद भदौरिया की तस्वीरों से भरा हुआ है। दोनों के बीच कितने व्यक्तिगत संबंध है इसका पता इस बात से लग जाता है कि कोरोनावायरस पॉजिटिव होने के बाद 1 सप्ताह का क्वॉरेंटाइन पीरियड मंत्री श्री अरविंद भदौरिया ने अपने पूरे परिवार के साथ राघवेंद्र सिंह तोमर के यहां बिताया था।

राघवेंद्र सिंह तोमर के शौक पढ़िए 

आई जी के पद से रिटायर हुए आईपीएस के बेटे के शौक छोटे-मोटे तो हो नहीं सकते और फिर जब बेटा खुद अरबों का मालिक बन गया हो तो बात ही क्या। कहते हैं राघवेंद्र सिंह को महंगी लग्जरी गाड़ियों का शौक है। बताते हैं कि छापे के वक्त उनके घर और ऑफिस में करीब दो दर्जन महंगी लग्जरी गाड़ियां खड़ी थी। जिनका उपयोग केवल राघवेंद्र सिंह तोमर करते हैं। उनकी पार्टियों में रसूखदार चेहरों की कभी कमी नहीं रहती। क्योंकि राघवेंद्र सिंह एक ठाकुर हैं इसलिए अपने कपड़ों और लुक का भी खास ख्याल रखते हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here