Loading...    
   


जबलपुर में प्राइवेट अस्पताल फीस लेकर कोरोना मरीजों को भर्ती कर सकते हैं: कलेक्टर / JABALPUR NEWS

जबलपुर। कोविड-19 को महामारी घोषित किया गया है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि महामारी से प्रीत नागरिकों का सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में निशुल्क इलाज किया जाएगा। जबलपुर कलेक्टर श्री भरत यादव ने प्राइवेट अस्पतालों को छूट दे दी है कि वह चाहे तो मरीजों से अपने स्तर पर फीस लेकर भर्ती कर सकते हैं। 

जरूरत पड़ी तो किसी भी अस्पताल को अधिग्रहित कर लेंगे: जबलपुर कलेक्टर

कलेक्टर भरत यादव ने नर्सिंग होम एसोसिएशन व आइएमए के पदाधिकारियों से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर किसी भी निजी अस्पताल को अधिग्रहित किया जा सकता है, इसलिए अस्पताल संचालक इस स्थिति के लिए तैयार रहें। कलेक्टर ने कहा कि निजी अस्पतालों के संचालक आपस में चर्चा कर यह तय कर लें की जरूरत पड़ने पर प्रशासन पहले किस अस्पताल का अधिग्रहण करें। कलेक्टर ने कहा कि अधिग्रहित निजी अस्पतालों को शासन द्वारा निर्धारित पैकेज के अनुसार राशि का भुगतान किया जाएगा। 

प्राइवेट अस्पतालों को कोरोनावायरस करने की छूट: जबलपुर कलेक्टर

निजी अस्पताल संचालक चाहें तो कोरोना के उन मरीजों को भर्ती कर उपचार कर सकेंगे जो स्वयं खर्च वहन करने में सक्षम हैं। आयुष्मान योजना के अंतर्गत पात्र कोरोना के मरीजों को उपचार की सुविधा के लिए निजी अस्पतालों को बिस्तर आरक्षित करने होंगे।

विक्टोरिया व मेडिकल में नहीं बढ़ेंगे वार्ड

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल के दौरान अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों को असुविधा से बचाने के लिए सुपर स्पेशियलिटी व विक्टोरिया अस्पताल के शेष हिस्से को आरक्षित नहीं किया जाएगा। सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के कोरोना के सिर्फ गंभीर मरीजों का इलाज किया जाएगा।

बोर्डिंग स्कूल में कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज किया जाएगा

कलेक्टर ने बताया कि सुखसागर मेडिकल कॉलेज और रांझी स्थित ज्ञानोदय आवासीय विद्यालय के छात्रावास में कोरोना के सामान्य लक्षण वाले मरीजों को भर्ती कर उपचार किया जाएगा। रेलवे और मिलिट्री हॉस्पिटल में मॉडरेट लक्षणों वाले कोरोना मरीज भर्ती होंगे। रामपुर स्थित बैगा छात्रावास एवं इंजीनियरिंग कॉलेज रांझी के छात्रावास सहित जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में स्थित छात्रावासों को क्वारंटीन सेंटर बनाया जायेगा।

कोरोना संदिग्ध का भी करना होगा उपचार

कलेक्टर यादव ने बैठक में स्पष्ट किया कि निजी अस्पतालों को प्रत्येक मरीज को उपचार मुहैया कराना होगा। कोई भी अस्पताल किसी भी मरीज का इलाज करने से मना नहीं कर सकता। कोरोना संदिग्ध मरीज को भी भर्ती कर उपचार कर सैंपल की जांच करानी होगी। सैंपल निजी अस्पताल द्वारा ही लिया जाएगा। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर मेडिकल व विक्टोरिया की टीम मरीज को कहीं और भेजने का निर्णय लेगी। इसलिए प्रत्येक अस्पताल आइसोलेशन वार्ड में बिस्तर आरक्षित कर लें।

हरसंभव सहयोग का भरोसा दिया

नर्सिंग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. जितेन्द्र जामदार ने कहा कि निजी अस्पताल संचालक प्रशासन को हरसंभव मदद देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कोरोना के लिए तय प्रोटोकॉल व गाइड लाइन की भी जानकारी दी। बैठक में अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रत्नेश कुररिया, डॉ. राजेश धीरावाणी, आईएमए के अध्यक्ष डॉ. मुकेश श्रीवास्तव भी मौजूद थे।

15 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

चिंता ना करें मध्य प्रदेश लॉकडाउन नहीं होगा: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
सिंधिया-सचिन को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा: नौजवानों में सब्र नहीं है
CBSE 10th RESULT 2020 यहां देखें, सबसे फास्ट के लिए MOBILE APP DOWNLOAD करें
सचिन पायलट नई पार्टी बनाएंगे: गहलोत सरकार पर संकट बरकरार
ग्वालियर किले से कूदकर महिमा ने आत्महत्या कर ली
COLLEGE EXAM के बारे में UGC का नया बयान, राज्य सरकारें जनरल प्रमोशन की घोषणा कर सकती हैं या नहीं
छींक आने पर मनुष्य की आँखें बंद क्यों हो जातीं हैं
MPPEB ने सभी परीक्षाओं को रीशेड्यूल करने प्रस्ताव भेजा
राजा-महाराजा मुकुट क्यों पहनते थे, कोई विज्ञान है या सिर्फ शान के लिए, पढ़िए
HOTEL GULZAR JABALPUR के मालिक SANJAY BHATIA के खिलाफ मामला दर्ज
MP BOARD 12th: चूक गए छात्रों के लिए विशेष परीक्षा कार्यक्रम
जबलपुर अपर आयुक्त की बेटी के विवाह में 21 कोरोना पॉजिटिव, 100 से ज्यादा संदिग्ध
भोपाल में हाई प्रोफाइल पार्टियों में लड़कियां सप्लाई करने वाले प्यारेमियां के फ्लैट्स तोड़े
मध्य प्रदेश कोरोना: OMG! 1 दिन में 798 पॉजिटिव, औसत 2% से सीधे 6% पर
झूठी शपथ या प्रतिज्ञा लेना किस धारा के अंतर्गत एक दण्डनीय अपराध है जानिए
भोपाल में हाई प्रोफाइल अय्याशों के खिलाफ ऑपरेशन के लिए SIT गठित
लोहे में जंग क्यों लगती है, पानी में ऐसा क्या होता है जो लोहा गल जाता है
भोपाल में माँ ने BF से चैटिंग करने मना किया तो इंपीरियल हारमनी की छठवीं मंजिल से कूदी छात्रा, मौत


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here