Loading...    
   


MPTET-2: रिजल्ट के 5 महीने बाद तक आरक्षण का रोस्टर तैयार नहीं हो पाया

भोपाल। मध्य प्रदेश में शासकीय स्कूलों का संचालन शिक्षा विभाग के अलावा आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा भी किया जाता है। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा आयोजित उच्च माध्यमिक शिक्षक एवं माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन शिक्षा विभाग एवं आदिम जाति कल्याण विभाग के लिए किया गया था। शिक्षा विभाग तो जैसे तैसे प्रक्रिया को आगे बढ़ा रहा है परंतु आदिम जाति कल्याण विभाग अब तक माध्यमिक शिक्षक भर्ती के लिए आरक्षण का रोस्टर तैयार नहीं कर पाया है। 

MPTET-2 परीक्षा का रिजल्ट आए हुए 5 महीने हो चुके हैं

आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारी अब तक यह भी फिक्स नहीं कर पाए हैं कि काउंसलिंग संभागीय होगी या सेंट्रलाइज्ड। जबकि प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) ने 6 अक्टूबर 2018 में सूचना जारी कर पात्रता परीक्षा में इसे शामिल किया था। विभाग ने माध्यमिक शिक्षकों के लिए 5704 पदों की वैकेंसी निकाली। इसके लिए आयोजित पात्रता परीक्षा का रिजल्ट आए हुए भी पांच माह बीत चुके हैं, लेकिन अभी संभावित तारीख भी तय नहीं की जा सकी हैं।

जब परीक्षा एक साथ हुई है तो काउंसलिंग भी एक साथ होनी चाहिए

लोक शिक्षण संचालनालय ने स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले स्कूलों में माध्यमिक शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर चुका है। उम्मीदवारों का कहना है कि दोनों विभाग मिलकर भर्ती प्रक्रिया एक साथ भी शुरू कर सकते थे। आदिम जाति कल्याण विभाग की ओर से पूर्व में यह दावा भी किया गया कि स्कूल शिक्षा विभाग के साथ ही काउंसलिंग शुरू की जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है। इससे मेरिट होल्डर उम्मीदवारों काे भर्ती के लिए लंबी प्रक्रिया से गुजरना होगा। जबकि, स्कूल शिक्षा और आदिम जाति कल्याण विभाग के लिए पात्रता परीक्षा संयुक्त रूप से हुई। ऐसे में उम्मीदवार की मेरिट लिस्ट भी एक समान है।

स्कूल शिक्षा विभाग : प्रोविजनल और प्रतीक्षा सूची जारी

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा स्कूल शिक्षा विभाग के सरकारी स्कूलों में उच्च माध्यमिक शिक्षक के बाद शनिवार को माध्यमिक शिक्षकों की भर्ती के लिए खाली पदों के आधार पर पीईबी की मेरिट के अनुसार उम्मीदवारों की प्रोविजनल सूची व प्रतीक्षा सूची जारी कर दी है। प्रोविजनल और प्रतीक्षा सूची में शामिल उम्मीदवार 25 मार्च तक काउंसलिंग पोर्टल पर दस्तावेज अपलोड कर सकते हैं। सभी जरूरी दस्तावेज ऑनलाइन अपलोड करना अनिवार्य है। अप्रैल में जिला स्तर पर दस्तावेजों का सत्यापन शुरू होगा।

MPTET-2 पास उम्मीदवारों की संख्या 200000 से ज्यादा है

स्कूल शिक्षा विभाग के सरकारी स्कूलों में 15 हजार उच्च माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षकों के 5670 खाली पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आदिम जाति कल्याण विभाग के स्कूलों में उच्च माध्यमिक के 2220 और माध्यमिक के 5704 खाली पदों पर भर्ती होगी। वहीं उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा में क्वालिफाई उम्मीदवारों की संख्या 43,723 है और माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा में क्वालिफाई उम्मीदवारों की संख्या 2,16,240 है। 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here