भोपाल मास्टर प्लान 2031 | BHOPAL MASTER PLAN 2031
       
        Loading...    
   

भोपाल मास्टर प्लान 2031 | BHOPAL MASTER PLAN 2031

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल शहर के लिए नया मास्टर प्लान 2031 आज दिनांक 5 मार्च 2020 को लॉन्च कर दिया गया। नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह ने मास्टर प्लान का विमोचन किया। जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और विधायक आरिफ मसूद इस अवसर पर प्रमुख रूप से उपस्थित थे। अब यह मास्टर प्लान पब्लिक ओपिनियन के लिए ऑनलाइन उपलब्ध है। दावे एवं आपत्तियों के बाद इसे फाइनल किया जाएगा। 

भोपाल मास्टर प्लान 2031 की खास बातें 

  • भोपाल में मास्टर प्लान 2005 के अनुसार 601 वर्ग किलोमीटर एरिया सम्मिलित किया गया था। अभिषेक 1016 वर्ग किलोमीटर कर दिया गया है। 
  • यह जीआईएस आधारित पेपरलेस मास्टर प्लान है। 
  • पूरे भोपाल शहर को 3494 GRIDS में विभाजित किया गया है। 
  • प्रत्येक GRID 0.5 वर्ग किलोमीटर की रखी गई है। 
  • लगभग चार लाख बिल्डिंग्स के फुटप्रिंट। 
  • शहर का GIS BASED नक्शा। 
  • विषय विशेषज्ञ और विभागीय अधिकारियों के अलावा सक्रिय नागरिकों से भी परामर्श लिया गया।
  • जनसंख्या विकास को देखते हुए भोपाल में नए एरिया rg4 और rg5 दर्ज किए गए हैं। 
  • यह पूरी तरह से MIXED USE बिल्डिंग कांसेप्ट पर आधारित होंगे। 


भोपाल मास्टर प्लान 2031 की खास बातें 

  • रिंग रोड के एक्सटेंशन के साथ 18 मीटर के एक्सटेंशन का विस्तार होगा। 
  • नए व्यापारिक एवं इंडस्ट्रियल जोन का विकास होगा। 
  • मेट्रो रेल से शहर के आउटर एरिया को जोड़ा जाएगा। 
  • रोड की चौड़ाई के अनुसार बिल्डिंग की ऊंचाई तय की जाएगी। 
  • मल्टीलेवल कॉमन पार्किंग को FAR में छूट मिलेगी। 
  • ओल्ड भोपाल की ऐतिहासिक बिल्डिंगों को हेरिटेज जोन में तब्दील। 
  • शहरी जंगल के संरक्षण के लिए GREEN TDR