महंगाई भत्ते के लिए विंध्याचल भवन में कर्मचारियों की गेट मीटिंग | MP NEWS
       
        Loading...    
   

महंगाई भत्ते के लिए विंध्याचल भवन में कर्मचारियों की गेट मीटिंग | MP NEWS

भोपाल। राज्य के कर्मचारी पांच फीसदी महंगाई भत्ते की मांग को लेकर अड़े हुए हैं। इन्होंने मंगलवार राजधानी के विंध्याचल भवन परिसर में गेट मीटिंग कर विरोध दर्ज कराया। ये संयुक्त मोर्चा के बैनरतले जुटे थे। इसके पहले 7 फरवरी को मप्र कर्मचारी कांग्रेस ध्यानाकर्षण दिवस मना चुकी है। इसके पूर्व दूसरे कर्मचारी संगठन भी सरकार से पांच फीसदी महंगाई भत्ते का लाभ देने की मांग कर चुके हैं।

संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष जितेंद्र सिंह ने कहा कि जुलाई 2019 से महंगाई भत्ते का लाभ मिलना लंबित है। आठ महीने हो रहे हैं, सरकार ने अभी तक ठोस निर्णय नहीं लिया है। प्रदर्शन को अन्य कर्मचारी नेताओं ने भी संबोधित किया। विरोध प्रदर्शन में देवेंद्र भदोरिया, एमपी द्विवेदी, अमर सिंह मावई, सुभाष शर्मा, सुरेंद्र सिंह सोलंकी, निहाल सिंह, अजय श्रीवास्तव, विजय रघुवंशी, शंकर सिंह सेंगर, विजय रायकवार, रमेश मीणा, राजकुमार चंदेल समेत कई कर्मचारी मौजूद थे।

बीएसएनएल के कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

ऑल यूनियन एंड एसोसिएशन ऑफ बीएसएनएल भोपाल शाखा के कर्मचारियों ने मंगलवार विरोध प्रदर्शन किया। जिला सचिव केएस ठाकुर ने बताया कि दिसंबर 2019 व जनवरी 2020 का वेतन नहीं मिला है, पूर्व में कर्मचारियों के वेतन से कटौत्रा भी किया है। दोनों की मांग कर रहे हैं। ठोस जवाब नहीं दिया जा रहा है। अन्य मांगे भी लंबित हैं उन पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इन सभी मांगों को पूरा करने के लिए विरोध प्रदर्शन किया है।

कर्मचारियों को वापस रखने की मांग

मप्र कर्मचारी आयोग के सदस्य वीरेंद्र खोंगल ने आबारी विभाग द्वारा सेवा से निकाले गए 250 कर्मचारियों को वापस रखने की मांग की है। निकाले गए कर्मचारियों ने वीरेंद्र खोंगल के साथ मंत्रियों से मुलाकात की है।