Loading...

माफिया के अतिक्रमण की तरह हटाई गई शिवाजी महाराज की मूर्ति (वीडियो), चक्का जाम, बाजार बंद | MP NEWS

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ के छिंदवाड़ा में भारी तनाव फैल गया। सौसर एसडीएम ओमप्रकाश सनोडिया शहर में लगाई गई छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को कुछ इस तरह से हटवाया जैसे माफिया का अवैध निर्माण हटाया जाता है। भारी पुलिस बल के साथ एसडीएम खुद मौके पर मौजूद थे। प्रतिमा को जेसीबी से हटाया गया। गुस्साए लोगों ने हाईवे जाम कर दिया। एसडीएम की इस कार्रवाई के विरोध में सोशल बाजार पूरी तरह से बंद रहा।

हिंदूवादी संगठनों ने उग्र प्रदर्शन किया, हाईवे जाम

सौंसर में मोहगांव तिराहे पर मंगलवार की सुबह हिंदूवादी संगठनों के द्वारा उग्र प्रदर्शन किया गया। करीब ढाई हजार से ज्यादा प्रदर्शनकारी सड़क पर आ गए। जिसके कारण यातायात भी बाधित हुआ। ये विवाद उस वक्त शुरू हुआ जब बीते महीने नगर के मोहगांव तिराहे पर छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा स्थापित करने को लेकर आम लोगों ने नगर पालिका प्रशासन को ज्ञापन दिया था, जिसके बाद नपा अध्यक्ष ने तिराहे के एक स्थल पर प्रतिमा स्थापित करने के लिए जगह भी देखी थी। बाद में हिंदूवादी संगठनों के द्वारा उक्त स्थल पर शिवाजी महाराज की प्रतिमा स्थापित करने चबूतरा बनवा कर शिवाजी महाराज की प्रतिमा रविवार-सोमवार की रात में स्थापित कर दी गई। जब इसकी जानकारी प्रशासन को मिली तो प्रशासन ने शिवाजी महाराज की प्रतिमा को हटाने के लिए बुलडोजर भेज दिया। शिवाजी महाराज की प्रतिमा को अपमान सहित हटाया गया। इसी बात से गुस्सा भड़क गया।

साढ़े तीन घंटे तक चक्काजाम

सुबह शिवाजी महाराज के समर्थकों, हिंदूवादी संगठनों को जानकारी मिलने पर बड़ी संख्या में मोहगांव तिराहे पर पहुंचकर प्रशासन के खिलाफ उग्र प्रदर्शन किया। सुबह 8 से ग्यारह बजे तक भारी संख्या में हिंदूवादी संगठनों और युवाओं के द्वारा प्रशासन के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। तीन घंटे चक्का जाम किया गया। इस बीच आवागमन पूरी तरह से बंद रहा। इस दौरान पुलिस बल तैनात किया गया। 

प्रशासन की कार्रवाई के खिलाफ बाजार बंद रहा

मंगलवार की सुबह छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को लेकर हुए उग्र प्रदर्शन पर नगर में पूरा चप्पा चप्पा दुकानें बंद रही, और नगर पूरी तरह से बंद रहा। इस बीच हिंदूवादी संगठनों के द्वारा प्रशासन ने उक्त स्थल पर प्रतिमा स्थापित करने पर स्वीकृति देने की बात बताने के उपरांत नगर में शिवाजी महाराज की जय जयकार करते हुए एक रैली भी निकाली। 

घबराए अधिकारियों ने मीटिंग बुलाई, समझौता किया

सुबह 11 बजे तहसील मुख्यालय में बैठक हुई। जिसमें विधायक विजय चौरे, पूर्व विधायक नानाभाऊ मोहोड, एसडीएम ओमप्रकाश सनोडिया, तहसीलदार डॉ अजय भूषण शुक्ला सहित छत्रपति शिवाजी महाराज के समर्थक मौजूद रहे। बैठक में अफसरों ने कहा कि मोहगांव तिराहे पर छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा स्थापित करने संबंधी हामी भरी। इस दौरान कहा कि गया कि 19 फरवरी शिवाजी महाराज की जयंती धूमधाम से मनाई जाएगी और मोहगांव तिराहे पर प्रतिमा को स्थापित किया जाएगा।इसकी पूरी जिम्मेदारी नगरपालिका को सौंपी गई है।