Loading...

शिवरात्रि आने वाली है और अचलेश्वर मंदिर अब तक तैयार नहीं हुआ | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। भगवान अचलनाथ के भक्तों को शिवरात्रि पर शिव पूजा करने के लिए अच्छी खासी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। अचलेश्वर मंदिर के निर्माण कार्य की गति तेज नहीं होने के कारण इस वर्ष भी भगवान अचलनाथ अधूरे मंदिर में बैठकर ही पुजेंगे। 

21 फरवरी को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाएगा, जिसके लिए शहर के सभी शिवालय सजकर तैयार होने लगे हैं और मंदिर में रंगाई, पुताई हो रही है, लेकिन अचलेश्वर महादेव मंदिर में अब तक निर्माण कार्य ही चल रहा है। शिवरात्रि पर हजारों भक्त अचलेश्वर महादेव के दर्शन करने के लिए रात से ही पहुंचना शुरू हो जाते हँे और देर रात तक लंबी-लंबी कतारें लगी रहती हैं।

अचलेश्वर महादेव मंदिर का निर्माण कार्य पिछले 2 वर्षों से चल रहा है, जिसके चलते भक्तों को अच्छी खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मंदिर प्रबंधन का दावा था कि शिवरात्रिसे पहले मंदिर का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा लेकिन अब तकनहीं हुआ है। जिसके चलते अचलेश्वर महादेव अधूरे मंदिर में बैठकर ही पुजेंगे।

अचलेश्वर महादेव मंदिर का निर्माण कार्य एक वर्ष में पूरा होना था लेकिन 2 वर्ष से ज्यादा हो चुके हैं, ठेकेदार द्वारा निर्माण कार्यमें कितनी रुचि ली जा रही है, इसकाउदाहरण आसानी से देखा जा सकता है। आलम यह है कि मंदिर का निर्माण कार्य कछुआ चाल से चल रहा है और इन दिनों तो रुका हुआ है।